Thursday , October 19 2017
Home / Uttar Pradesh / अक्लियती असातिजा को 11 महीने से तंख्वाह नहीं

अक्लियती असातिजा को 11 महीने से तंख्वाह नहीं

झारखंड अक्लियती और तावून हासिल प्राइमरी स्कूल असातिज़ा यूनियन ने हुकूमत से 11 महीने से लंबित अपने तंख्वाह के अदायगी की मांग की है। सनीचर को संत अलोइस स्कूल में ब्रदर सिरिल लकड़ा की सदारत में हुई बैठक में मेंबरों ने कहा कि माली साल 2013

झारखंड अक्लियती और तावून हासिल प्राइमरी स्कूल असातिज़ा यूनियन ने हुकूमत से 11 महीने से लंबित अपने तंख्वाह के अदायगी की मांग की है। सनीचर को संत अलोइस स्कूल में ब्रदर सिरिल लकड़ा की सदारत में हुई बैठक में मेंबरों ने कहा कि माली साल 2013-14 के अदायगी के लिए जिले को एलोट मिल गया है। इसलिए तंख्वाह अदायगी के लिए स्कूल इंतेजामिया को रकम दस्तयाब करायी जाय़े।

यूनियन ने मांग की है कि गुमला, सिमडेगा, खूंटी, पाकुड़, लोहरदगा, साहेबगंज, गढ़वा जिले के लिए छठे मर्कज़ी तंख्वाह के मुक़ाबले तंख्वाह अदागयी के लिए दूसरे बजट में तजवीज किया जाय़े एक दिसंबर 2004 को या उसके बाद तकर्रुरी असातिज़ा के लिए पेंशन मंसूबा लागू की जाय़े। रांची जमशेदपुर और धनबाद के शहरी इलाकों में काम कर रहे असातिज़ा और मुलाज़मीन को टीए की सहूलत मिल़े। फरवरी से जून 2006 के दरमियान सालाना तंख्वाह के इजाफ़ी वाले असातिज़ा को तंख्वाह में एक तंख्वाह इजाफा की सहुलत दी जाय़े। डाइरेक्टरेट में सालों से लंबित तंख्वाह का जल्द दिया जाये।

बैठक में निरंजन कुमार सांडिल, बसंत कुमार मिश्र, फादर हुबतरुस बेक, बसंत नारायण सिंह, श्यामपदो सेन, मोनिका तिर्की, महेंद्र खेस, बाबर मिर्जा, दिलीप मालवा, फूलमनी तोपनो, सिस्टर प्रभा कुल्लू, सिस्टर पुष्पा टोप्पो, विमल कच्छप, सामुएल सोय, वत्सीय रविकांत सिंह, फादर बी कुजूर, मंजूलिका तिर्की, एमटीपी अग्रवाल, अनूप एक्का समेत वर्किंग कमेटी के सेक्रेटरी, जिला सदर और जिला सेक्रेटरी समेत कई दीगर मौजूद थ़े।

TOPPOPULARRECENT