Wednesday , September 20 2017
Home / Entertainment / अच्छा है, मेरे पिता मर गए….वरना आजकल के कुछ लोगों की बातें सुनते तो दुःखी होते: शाह रुख़ ख़ान

अच्छा है, मेरे पिता मर गए….वरना आजकल के कुछ लोगों की बातें सुनते तो दुःखी होते: शाह रुख़ ख़ान

मुंबई: बॉलीवुड में बादशाह के नाम से मशहूर शाह रुख़ ख़ान ने अपना दर्द बयान करते हुए ट्विटर के ज़रिये कहा कि वो अपने पिता की सलाह पे चलते हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि आप जितना शांत हो जाते हैं, उतना ही लोगों की बातें सुन पाते हैं. आगे वो कहते हैं कि अच्छा है कि उनके फ्रीडम फाइटर पिता मर गए क्यूंकि अगर वो ज़िन्दा होते तो आज जैसी बातें कुछ लोग करते हैं उसको सुनकर उन्हें दुःख होता.


शाहरुख़ ख़ान बॉलीवुड के इतिहास के सबसे कामयाब अदाकारों में से एक हैं जिन्हें सैंकड़ों अवार्ड से नवाज़ा जा चुका है लेकिन पिछले दिनों कुछ दक्षिणपंथी संगठनों ने उनके ख़िलाफ़ बिना वजह की बातें की थीं, शाह रुख़ को सिर्फ़ इसलिए भी कुछ लोगों ने बुरा कह डाला क्यूंकि वो मुसलमान हैं. ये बड़े अफ़सोस की बात है कि जिस अदाकार को हमें सर आँखों पे बिठाना चाहिए कुछ लोग अपने पागलपन में उनपे कीचड उछालने की कोशिश करते हैं. सबसे दिलचस्प बात ये है कि जो लोग ऐसी बातें कर रहे हैं अक्सर उनका रोज़गार दंगे फ़साद कराना होता है कोई सुख शान्ति की बात करे इनको पसंद नहीं आता. शायद शाह रुख़ भी शान्ति का पक्ष लेने की वजह से घेरे जा रहे हैं.

TOPPOPULARRECENT