Sunday , September 24 2017
Home / Delhi News / सर सैय्यद को भारत रत्न देना ही भारत रत्न के लिए सम्मान की बात होगी

सर सैय्यद को भारत रत्न देना ही भारत रत्न के लिए सम्मान की बात होगी

नई दिल्ली। दिल्ली में आयोजित अलीग बिरादरीयों के प्रोग्राम में उक्त बातें शहजाद पुनावाला ने कही.अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न दिया जा सकता है तो सर सैय्यद का भी भारत रत्न पर अधिकार बनता है और सर सैय्यद को भारत रत्न देना ही भारत रत्न के लिए सम्मान की बात होगी. आपको बता दें कि शहजाद पुनावाला पहले सियासी नेता हैं जिन्होंने सर सैयद को भारत रत्न देने की आवाज उठाई है.मौजूदा वक्त में शहजाद कांग्रेस के सबसे युवा नेता हैं और महाराष्ट्र कांग्रेस में सचिव के पद पर नियुक्त हैं और पूनावाला इस वक्त मुसलमानों में काफी पसंदीदा नेता माने जाते हैं.किसी सियासी पार्टी के नेता द्वारा उठाए गए ऐसे आवाज से इस मूवमेंट को जबरदस्त बल मिलेगा.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार दिल्ली में सर सैयद डे के आयोजन के अवसर पर प्रतिभागियों ने सर सैय्यद को भारत रत्न देने केलिए आवाज़ उठाई, दिल्ली की अलीग बिरादरी द्वारा आयोजित सर सैय्यद डे समारोह में सर सैय्यद अहमद खान को श्रद्धांजलि देने कांग्रेस नेता दिगविजय सिंह और पूर्व सांसद संदीप दीक्षित भी पहुंचे।
इस अवसर पर शहजाद पूनावाला ने कहा कि मौजूदा सरकार जो भेदभाव AMU के कर रही है उसके खिलाफ वह अलीग बिरादरी के साथ सड़क से संसद और कोर्ट तक मुहिम चलाएंगे और अगले साल 200 वीं सालग्रह के अवसर पर 17 अक्टूबर को ‘सर सैयद डे’ घोषित करने का प्रस्ताव मोदी और HRD मिनिस्ट्री में देंगे.
इस अवसर पर जहां सर सैय्यद की नई फ़िक्र और नई शैक्षिक सोच को श्रद्धांजलि अर्पित की गई तो साथ ही यह आवाज भी उठी कि अगर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न दिया जा सकता है तो सर सैय्यद का भी भारत रत्न पर अधिकार बनता है।
समारोह के दौरान सच्चर कमेटी और मुसलमानों की शैक्षिक बदहाली का जिक्र किया गया और केंद्र सरकार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के सेंटर केलिए फंड न मुहैया कराने पर आवाज उठाई गई। मुसलमानों से देशभक्ति का सबूत माने जाने पर भी प्रतिभागियों ने सवाल उठाया और कहा कि उन लोगों से सबूत मांगा जाए जो दूसरों से देशभक्ति का सबूत मांगते हैं।

TOPPOPULARRECENT