Sunday , October 22 2017
Home / India / अन्ना हज़ारे रफ़क़ा की अपील नजरअंदाज़ करके भूक हड़ताल में शामिल

अन्ना हज़ारे रफ़क़ा की अपील नजरअंदाज़ करके भूक हड़ताल में शामिल

जंतर मंत्र पर अवाम का हुजूम, जिन लोक पाल की मंज़ूरी तक लोग मुझे मरने नहीं देंगे , गानधयाई क़ाइद का रिमार्क

जंतर मंत्र पर अवाम का हुजूम, जिन लोक पाल की मंज़ूरी तक लोग मुझे मरने नहीं देंगे , गानधयाई क़ाइद का रिमार्क
अन्ना हज़ारे आज अपने क़रीबी रफ़क़ा की अपील को नजरअंदाज़ करते हुए टीम में शामिल तीन अरकान(मम्बर‌) की ग़ैर मुअय्यना मुद्दत की भूक हड़ताल में शामिल होगए।

लोक पाल बिल पर मुतालिबात तस्लीम करने केलिए चार दिन का अल्टीमेटम ख़तम‌ होने के बाद ये भूक हड़ताल शुरू की गई है। अन्ना हज़ारे आज भारत माता कीजए, वंदे मातरम और इन्क़िलाब ज़िंदाबाद नारों के दरमयान जंतर मंत्र पहुंचे। उन्हों ने इस मौखे पर ख़िताब करते हुए कहा कि मेरी टीम ने सेहत की बुनियाद पर इन से भूक हड़ताल ना करने की ख़ाहिश की थी। उन्हों ने कहा कि जब 400 लोग भूक हड़ताल कररहे हूँ तो में इस में शिरकत ना करके उन्हें नजरअंदाज़ नहीं करसकता था चुनांचे कल भी मेरी टीम की अपील के बावजूद आज मैंने भूक हड़ताल में हिस्सा लेने का फ़ैसला करलिया है।

इस फ़ैसला का ऐलान किए जाने के बाद भी भूक हड़ताल में शामिल बाअज़ शिरका ने अन्ना हज़ारे से अपील की कि वो भूक हड़ताल ना करें और कहा कि ज़िंदगी अनमोल है उन की क़ियादत की ऐसे वक़्त सख़्त ज़रूरत है। अन्ना हज़ारे ने फ़ौरी माईक्रो फ़ोन अपने हाथ में लिया और कहा कि जब तक जिन लोक पाल मंज़ूर ना हो, मल्क की अवाम मुझे मरने नहीं देंगे। 74 साला अन्ना हज़ारे ने हुकूमत से लोक पाल बिल पर उन के मुतालिबात हफ़्ते तक तस्लीम करने का मुतालिबा किया बसूरत-ए-दीगर वो भूक हड़ताल शुरू करदेंगे।

मुमताज़ समाजी कारकुन अन्नाहज़ारे ने एक मज़बूत जिन लोक पाल बिल के क़ियाम और वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह समेत 14 का बीनी वज़ीरों के ख़िलाफ़ जिन पर टीम अन्ना ने बदउनवानी के इल्ज़ामात आइद किए हैं, तफ़तीश शुरू करने का मुतालिबा करते हुए एक बार फिर ग़ैर मुअय्यना मद्दत की भूक हड़ताल शुरू करदी।

यहां हज़ारे की मौजूदगी की वजह से अचानक भीड़ बढ़ने लगी थी।हज़ारे धरने पर बैठे हुए थे जब उन के क़रीबी मुआविन अरविंद कीजरवाल , मनीष ससोडया और गोपाल राय 25 जुलाई से ही भूक हड़ताल पर हैं।टीम अन्ना ने हज़ारे से अपनी ख़राबी सेहत के पेशे नज़र भूक हड़ताल ना करने की दरख़ास्त की थी।

हज़ारे ने कहा कि इन की भूक हड़ताल उस वक़्त तक जारी रहेगी जब तक कि इन के मुतालिबात पूरे नहीं होजाते।गानधयाई रहनुमा ने जंतर मंत्र पर जहां उन का मैडीकल चैकअप भी किया गया कहा कि में इस वक़्त तक भूक हड़ताल पर रहूँगा जब तक कि जिन लोक पाक बिल मंज़ूर नहीं होजाता। हमारी तहरीक(आंदोलन‌) जारी रहेगी। हुकूमत ने हमेशा जिन लोक पाल मुआमला में हमारे साथ ग़द्दारी की है।हज़ारे ने ये वाज़िह करदिया है कि वो लोक पाल बिल की मंज़ूर तक अपनी भूक हड़ताल जारी रखेंगे। ताहम उन की टीम के अरकान ये कहते रहे हैं कि इन का असल मुतालिबा का बीनी वज़ीरों के ख़िलाफ़ तफ़तीश (खोज‌)है।

TOPPOPULARRECENT