Monday , August 21 2017
Home / Bihar News / अपना बयान वापस लें केजरीवाल : राजद

अपना बयान वापस लें केजरीवाल : राजद

पटना : बिहार के वजीरे आला नीतीश कुमार के हलफबरदारी तकरीब के मंच पर लालू प्रसाद यादव और केजरीवाल का मिलने का मामला सियासी गलियारों में तूल पकड़ता जा रहा है। केजरीवाल ने जैसे ही इस मामले में सफाई दी है। उसके बाद रियासती राजद के लीडर भी सामने आ गए हैं। इतना ही नहीं राजद लीडरों का मानना है कि केजरीवाल इस तरह की बयानबाजी कर बिहार का तौहीन कर रहे हैं।

राजद लीडरों ने कहा है कि मेहमानों को गले लगाना हमार तदफीन है। अरविंद केजरीवाल की तरफ से दिया गया यह बयान कि लालू प्रसाद उनसे जबरदस्ती गले मिले हैं पर रद्दो अमल ज़ाहिर करते हुए कहा कि केजरीवाल हमारे मेहमान थे और उन्हें हमने इज्ज़त दिया। यह हमारा तदफीन है। रियासती राजद के रियासती तर्जुमान चितरंजन गगन, मीडिया इंचार्ज प्रगति मेहता और रियासती जेनरल सेक्रेटरी अरुण कुमार ने कहा कि बिहार के लोगों के दरवाजे पर अगर मुखालिफत भी आ जाते हैं तो हम उन्हें गले लगा लेते हैं। लालू प्रसाद ने हमारी कल्चर और जम्हूरियत के इक्तिदार का पालन किया है। इज़्ज़त देने के लिए उन्हें गले लगाया था। जिसे जो समझना है वो समझे। लीडरों ने कहा कि लालू प्रसाद बिहार के ही नहीं पूरे मुल्क के गरीबों, पसमानदा, दलितों, अकलियतों के अवमी लीडर नेता हैं। यह एसेम्बली इंतिख़ाब इस पर मुहर लगा दिया है।

राजद के तर्जुमान मनोज झा का कहना है कि केजरीवाल को पहले से पता था कि उन्हें किस प्रोग्राम में बुलाया गया है। मनोज झा ने कहा कि केजरीवाल को किसी सीनियर लीडर के बारे में इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए। उन्हें अपना बयान वापस लेना चाहिए। मनोज झा ने केजरीवाल पर मोदी की तरह करने का इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि वह लालू यादव के खिलाफ बयान देकर बिहार का तौहीन कर रहे हैं। गौरतलब हो कि 20 नवंबर को हलफबरदारी तकरीब में पहुंचे दिल्ली के वजीरे आला केजरीवाल और लालू यादव की गले मिलने वाली तस्वीरें बहस का मुद्दा बनी थीं। उसके बाद केजरीवाल ने इसपर अपनी सफाई भी दी है।

TOPPOPULARRECENT