Sunday , August 20 2017
Home / Bihar News / अपने अंदाज में लालू : जब यादव को भैंस कमजोर नहीं कर सका, तो इस बीजेपी की क्या मजाल

अपने अंदाज में लालू : जब यादव को भैंस कमजोर नहीं कर सका, तो इस बीजेपी की क्या मजाल

तेरसिया दियारा : राजद सदर लालू प्रसाद “अपनों’ के बीच अपने असली अंदाज में थे। यहां अपने छोटे बेटे तेजस्वी के लिए वोट मांगने आए थे। राघोपुर में तीसरे मरहले में वोटिंग होना है। लालू ने इतवार को यहीं से अपने इंतिखाबी तशहीर की शुरुआत की। उन्होंने कहा- यदुवंशियों सावधान! इ महाभारत हऊ रे भाई। सबकुछ तोरे पर है। वोट को छितराने नहीं देना। भाजपा वाला यादव को बेवकूफ समझता है। यादव के वोट को बांटने का सब उपाय कर दिया। यादव को कमजोर करना चाहता है। अरे, जब यादव को भैंस कमजोर नहीं कर सका, तो इस सब (भाजपाई) क्या है? … यादव सुत गईल त पोआर (मरा जैसा), आ जग गईल त शेर। जाग जाओ। दलाल को पहचानो। ई मंडल-कमंडल के लड़ाई हऊ। कमंडल के फोड़ देवे ला हऊ।

लालू के मुताबिक, यादव कुछ नहीं करता, सब उसको मुजरिम बोलता है। सब कह रहा है- फेरो ललुआ आ जतऊ का रे? सब हम गरीब गुरबा लोग के पीछे पड़ल हऊ। पिछड़ा के दू गो बेटा (लालू-नीतीश) मिल गेलऊ, त इस सब के छाती फट रहल हऊ। इहे खेला हऊ रे भाई। मैंने लालकृष्ण आडवाणी के रथ को रोक दिया। सब कहने लगा-यादव का एक ही बेटा है लालू, जो फिरका परस्त ताकतों की छाती पर कोदो दरा।

लालू ने सबको समझाया- यादव के बेटा पुट्‌टूस को खस्सी की तरह पकड़ा। अनंत सिंह का लोग सब पुट्‌टूस का नाखून उखाड़ कर मार डाला। मैंने नीतीश कुमार को कार्रवाई के लिए कहा। कार्रवाई हुई, तो रालोसपा का रियासती सदर अरुण कुमार ने नीतीश की छाती को तोड़ देने की बात कही।… रे छाती तोड़बे रे! नीतीशे के पास लालू बैठा है रे। इस 90 वाला बिहार नहीं है। जब तबला बजेगा धिन-धिन, तो होंगे एक पर तीन-तीन। … भाजपा वाला हमारे भगवान श्रीकृष्ण को गाली देता है।

लालू ने कहा- इ लाल कार्ड-पिअर कार्ड के लड़ाई न हऊ। आरएसएस के मोहन भागवत ने रिज़र्वेशन को खत्म करने की बात कही। मैंने कहा-मूंछ में ताकत है, तो खत्म करो। लालू-नीतीश, यहीं से दिल्ली को बदल देगा। कोई माई का लाल बिहार में हमारी हुकूमत बनने से नहीं रोक सकता।

 

TOPPOPULARRECENT