Saturday , October 21 2017
Home / Uttar Pradesh / अबतक के सबसे घटिया वजीरे आला हेमंत सोरेनः पौलुस सुरीन

अबतक के सबसे घटिया वजीरे आला हेमंत सोरेनः पौलुस सुरीन

झामुमो के एमएलए पौलुस सुरीन अब वजीरे आला हेमंत सोरेन के खिलाफ गलत अलफाज का इस्तेमाल करने लगे हैं। उन्होंने एक टीवी चैनल से बातचीत में वजीरे आला को कमजोर और घटिया सीएम कहा है। पौलुस सुरीन ने कहा : सीएम को ऐसा नहीं होना चाहिए। अब तक क

झामुमो के एमएलए पौलुस सुरीन अब वजीरे आला हेमंत सोरेन के खिलाफ गलत अलफाज का इस्तेमाल करने लगे हैं। उन्होंने एक टीवी चैनल से बातचीत में वजीरे आला को कमजोर और घटिया सीएम कहा है। पौलुस सुरीन ने कहा : सीएम को ऐसा नहीं होना चाहिए। अब तक के सबसे कमजोर और घटिया सीएम हैं हेमंत सोरेन। वहीं जब शाम में सहाफ़ियों ने उनसे टेलीफोन पर बात की, तो उन्होंने इस बयान का एतराज़ जताते हुए कहा कि उन्होंने ऐसा नहीं कहा है। आखिर वह अपने वजीरे आला को ऐसा कैसे कह सकते हैं। मेरे बयान को तोड़-मरोड़ कर दिखाया गया है।

दूसरी तरफ, झामुमो ने अपने एमएलए के इस बयान को काफी संजीदगी से लिया है। पार्टी के जेनरल सेक्रेटरी सुप्रियो भट्टाचार्य ने उनके खिलाफ कार्रवाई के इशारे दिये हैं। मिस्टर भट्टाचार्य ने कहा है कि उन्हें पहले अनुशासनहीनता की वजह से वजह बताओ नोटिस जारी किया गया था। तब मिस्टर सुरीन ने माफी मांगी थी। इसके बाद उन्हें हिदायत दी गयी थी कि दोबारा वह हुकूमत और पार्टी के खिलाफ न बोलें। इसके बावजूद एमएलए ने बयान दिया है, तो यह संगीन बात है। जल्द ही पार्टी की बैठक कर आगे की कार्रवाई की जायेगी।

पार्टी छोड़ने का इशारा दिया

इधर, पौलुस सुरीन ने पार्टी छोड़ने का इशारा दिया है। उन्होंने कहा कि जुनूबी छोटानागपुर डिवीजन में वह अपनी पहचान बनाना चाहते हैं। झामुमो में रह कर ऐसा नहीं हो सकता। देखते हैं कि वैसी किसी दूसरी पार्टी से बातचीत होगी, जो लोकसभा सीट के लिए उन्हें हिमायत करेगी। उन्होंने कहा कि पीर तक इंतजार करें, कुछ न कुछ जरूर होगा।

TOPPOPULARRECENT