Tuesday , March 28 2017
Home / Delhi News / अब्दुल्लाह आज़म की उम्र का मामला चुनाव आयोग पहुंचा

अब्दुल्लाह आज़म की उम्र का मामला चुनाव आयोग पहुंचा

नई दिल्ली। यूपी के मंत्री और सपा के नेता आजम खां के बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला आजम खां की उम्र का मामला अब चुनाव आयोग पहुंच चुका है। भाजपा ने चुनाव आयोग से अब्दुल्ला आजम खां का नामांकन निरस्त करने की मांग की है। भाजपा का आरोप है कि अब्दुल्ला की आयु कम है और नामांकन पत्र में कई जरूरी तथ्य भी छिपाए गए हैं। इससे पहले पूर्व स्वार डांडा के बसपा उम्मीदवार नवाब काजिम अली उर्फ नवेद मियां भी अब्दुल्ला के खिलाफ निर्वाचन अधिकारी के पास एक याचिका दे चुके हैं, लेकिन उसे खारिज कर दिया गया था।

शिकायत में कहा गया है कि अब्दुल्ला आजम खां की उम्र 25 साल से कम है। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर, प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक तथा एडवोकेट कुलदीप पति त्रिपाठी ने मोहम्मद अब्दुल्ला आजम के शपथ पत्र की प्रति और उत्तरांचल हाईकोर्ट के आदेश की छायाप्रति संलग्न कर कहा है कि जन्मतिथि के प्रमाण के लिए हाईस्कूल का प्रमाण पत्र ही मान्य होता है। अगर किसी व्यक्ति ने हाईस्कूल की परीक्षा पास नहीं की है, तभी आयु के प्रमाण के लिए अन्य विकल्पों के बारे में सोचा जा सकता है।

भाजपा की तरफ से निर्वाचन अधिकारी पर आरोप लगाया गया है कि उन्हें शिकायत किए जाने के बाद भी हाईस्कूल का प्रमाण पत्र देखने के बाद ही कोई फैसला लेना चाहिए था। यह भी आरोप लगाया गया है कि निर्वाचन अधिकारी ने कुल आय का कॉलम खाली होने, उच्चतम डिग्री में वर्ष-स्थान न लिखे जाने जैसी बातों को भी नजर अदांज किया है। आजम खां पर आरोप है कि वह अपने बेटे की आयु छिपाने की कोशिश कर रहे हैं और संपत्ति भी घोषित नहीं कर रहे हैं। ऐसे में भाजपा ने चुनाव आयोग से अब्दुल्ला आजम पर कानूनी कार्रवाई करते हुए उनका नामांकन खारिज करने की मांग की है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT