Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / अब ‘नायब वज़ीरे आ़जम’ के दावेदार !

अब ‘नायब वज़ीरे आ़जम’ के दावेदार !

खिचडी पकी नहीं खाने पर पिल प़डने वाले प्लेट लेकर हाजिर हो गये। बीजेपी की सियासत भी कुछ ऐसी ही ऩजर आ रही है। इलेक्शन अभी शुरू हुए हैं। बीजेपी मे कई नेताओं की ऩजर डिप्यूटी प्राइमिनिस्टर की सीट पर गड़ गयी है।

खिचडी पकी नहीं खाने पर पिल प़डने वाले प्लेट लेकर हाजिर हो गये। बीजेपी की सियासत भी कुछ ऐसी ही ऩजर आ रही है। इलेक्शन अभी शुरू हुए हैं। बीजेपी मे कई नेताओं की ऩजर डिप्यूटी प्राइमिनिस्टर की सीट पर गड़ गयी है।

पंजाब के अटारी में बीजेपी नेता अरूण जेटली की पहली रैली में सीएम प्रकाश सिंह बादल के बयान पर शिवसेना नेबीजेपी पर निशाना साधा है। बादल ने अरूण जेटली को मुस्तक़बिल के नायब वज़ीरे आ़जम के तौर पर अवाम से रूबरू करवाया। इस पर शिवसेना ने सख्त तन्क़ीद की। शिवसेना ने कहा है कि नायब वज़ीरे आ़जम के ओहदे के लिए जेटली का नाम लिया जा सकता है तो सुषमा स्‍वराज का क्‍यों नहीं?

इससे पहले भी विज़ारते उ़ज्मा के ओहदे के लिए शिवसेना ने नरेंद्र मोदी की जगह सुषमा की हिमातय कर की थी। जेटली अमृतसर लोकसभा सीट से उम्‍मीदवार हैं।

एनडीए के इक़्तेदार में आने पर जेटली को कोई बड़ी जिम्‍मेदारी मिलेगी लेकिन वह क्‍या होगी, इस पर अभी फैसला नहीं किया गया है। बादल ने रैली में कहा कि एनडीए की सरकार में जेटली नायब वज़ीरे आ़जम या फैनान्स मिनिस्टर का ओहदा संभालेंगे। हालांकि इसके जवाब में जेटली ने कहा कि ‘मैं किसी भी पद का दावेदार नहीं हूं, इन्तेक़ाबी मुहीम के दौरान ऐसी बातें तो होती रहती हैं। जेटली ने कहा कि हमेशा से ही पंजाब की पार्लियामेंट में एक मजबूत आवाज रही है । इसलिए: मुझसे भी उम्‍मीद की जा रही है कि मैं वहां अहम रोल निभाऊंगा, लेकिन मैं किसी ओहदे के लालच में आकर आगे नहीं बढ़ रहा हूं।

जेटली ने कहा, मैं पंजाब के लिए नया नहीं हूं, पहले भी मैं यहां आता रहा हूं, बीजेपी और अकाली दल के बीच बड़े गहरे ताल्लुकात हैं।

TOPPOPULARRECENT