Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / अमित शाह पर लड़की की जासूसी कराने का इल्ज़ाम

अमित शाह पर लड़की की जासूसी कराने का इल्ज़ाम

वज़ीर ए आज़म के ओहदे के बीजेपी उम्मीदवार व गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी के करीबी और गुजरात के साबिक वज़ीर ए दाखिला अमित शाह पर जुमे के दिन साल 2009 में पुलिस निज़ाम का गलत इस्तेमाल करके एक लड़की की जासूसी कराने का इल्ज़ाम लगाया गया। माम

वज़ीर ए आज़म के ओहदे के बीजेपी उम्मीदवार व गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी के करीबी और गुजरात के साबिक वज़ीर ए दाखिला अमित शाह पर जुमे के दिन साल 2009 में पुलिस निज़ाम का गलत इस्तेमाल करके एक लड़की की जासूसी कराने का इल्ज़ाम लगाया गया। मामले में मोदी को भी घसीटने की कोशिश की गई, जबकि लड़की के वालिद ने इस छोटी सी वाकिया को मीडिया में ले जाने के लिए शामिल लोगों पर अपने मुफाद के लिए अफसोस जताया।

इस बारे में हुए प्रेस कांफ्रेंस में कौमी सलाहकार काउंसिल (एनएसी) की मेम्बर अरुणा राय, वकील प्रशांत भूषण और साबिक नैवी चीफ एल रामदास भी मौजूद थे। इसमें टेलीफोन पर हुई बातचीत के टेप को जारी किए गए जिसे शाह व रियासत के आइपीएस आफीसर जीएल सिंघल का बताया गया।

दो खोजी पोर्टलों कोबरा पोस्ट और गुलैल ने दावा किया है कि उन्होंने इस टेप को इशरत जहां एनकाउंटर में सीबीआइ के पास जमा किया है। इनका दावा है कि मोदी इस लड़की से मिले थे जो बेंगलूर की एक आर्टिटेक्ट थी।

लड़की के वालिद ने एक बयान में कहा है कि उनकी बेटी मां के ऑपरेशन के वक्त अहमदाबाद आई थी। उसे देर रात अस्पताल और जिस होटल में ठहरी थी वहां आना-जाना पड़ता था। इसलिए उन्होंने मोदी से उसकी देखरेख की गुज़ारिश किये थें ।

TOPPOPULARRECENT