Friday , October 20 2017
Home / India / अमेठी और राय बरेली की तरक़्क़ी मर्कज़ की मरहून-ए-मिन्नत : राहुल गांधी

अमेठी और राय बरेली की तरक़्क़ी मर्कज़ की मरहून-ए-मिन्नत : राहुल गांधी

कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी राहुल गांधी ने आज हसब रिवायत उत्तर प्रदेश की तमाम गैरकांग्रेसी हुकूमतों को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि इन हुकूमतों ने अवाम के लिए कुछ नहीं किया जिसका सिलसिला गुज़शता 22 सालों से जारी है और अगर अवाम अम

कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी राहुल गांधी ने आज हसब रिवायत उत्तर प्रदेश की तमाम गैरकांग्रेसी हुकूमतों को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि इन हुकूमतों ने अवाम के लिए कुछ नहीं किया जिसका सिलसिला गुज़शता 22 सालों से जारी है और अगर अवाम अमेठी और राय बरेली में जो थोड़ी बहुत तरक़्क़ी देख रहे हैं वो सब मर्कज़ की मरहून-ए-मिन्नत है।

उँचाहार असेंबली हलक़ा के मौज़ा पटीरवा में एक इंतिख़ाबी जलसा से ख़िताब करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि वो अवाम से ये पूछना चाहते हैं कि गैरकांग्रेसी हुकूमतों ने आख़िर अवाम को गुज़शता 22 सालों में क्या दिया ? मायावती और मुलायम सिंह इक़्तेदार पर आते रहे जाते रहे लेकिन उन्हें (राहुल) को तरक़्क़ी के नाम पर कुछ भी नज़र नहीं आ रहा है। अवाम की हालत ज्यो की त्यो है क्योंकि मैंने आप के घरों तक रसाई की है, साथ खाना खाया है लिहाज़ा अब ज़रूरत इस बात की है कि अवाम रियासत में हुकूमत को तबदील करें और ख़ुद देखें कि गुज़श्ता हुकूमतों और मैं कितना फ़र्क़ है।

TOPPOPULARRECENT