Wednesday , March 29 2017
Home / International / अमेरिका के पूर्व राजदूत ने पाक के कश्मीर पॉलिसी पर सवाल उठाए

अमेरिका के पूर्व राजदूत ने पाक के कश्मीर पॉलिसी पर सवाल उठाए

LONDON, ENGLAND - APRIL 30: Prime Minister of Pakistan Muhammad Nawaz Sharif holds a meeting with British Prime Minister David Cameron in the White Room of Number 10 Downing Street on April 30, 2014 in London, England. During his visit to the UK, Mr Sharif is scheduled to meet with David Cameron, address an Investment Conference and meet members of the Pakistani Diaspora. (Photo by Oli Scarff - WPA Pool /Getty Images)

वाशिंगटन। पाकिस्तान की दशकों पुरानी कश्मीर नीति पर सवाल उठाते हुए देश के एक पूर्व शीर्ष दूत ने कहा है कि इस मसले को सुलझाने से भी आतंकवाद, साम्प्रदायिक संघर्ष की चुनौती समाप्त नहीं होगी या तालिबान अफगानिस्तान में पुरानी इस्लामी व्यवस्था स्थापित करने के अपने लक्ष्य को नहीं छोड़ेगा।

अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी ने शुक्रवार को कहा, कश्मीर की समस्या सुलझ जाने पर भी साम्प्रदायिक आतंकवाद कैसे समाप्त होगा, क्योंकि साम्प्रदायिक आतंकवाद का मतलब उन लोगों की हत्या करना है जो आपके धार्मिक सम्प्रदाय के नहीं हैं। कश्मीर की समस्या का समाधान करने से तालिबान नहीं रकेगा जिसका लक्ष्य अफगानिस्तान में पुरानी इस्लामी व्यवस्था को पैदा करना है।

उन्होंने कहा, इसलिए कभी कभी पाकिस्तान की ओर से इसे एक अति राष्ट्रवादी दलील बना दिया जाना और कभी कभी बहुत ही आसानी से यह कह देना कि अमेरिका में पाकिस्तान के रख को लेकर हमारे पास कोई विकल्प नहीं है। हम चाहते हैं कि दोनों पक्ष सही मायने में अपने रख के बारे में सोचें।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT