Thursday , June 22 2017
Home / India / अमेरिका ने कर्नाटक में जन्मे कथित इस्लामी राज्य के आतंकी को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया

अमेरिका ने कर्नाटक में जन्मे कथित इस्लामी राज्य के आतंकी को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया

अमेरिका ने गुरुवार को कर्नाटक में जन्मे कथित इस्लामी स्टेट ऑपरेटर मोहम्मद शफी अरमर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया। अरमर के साथ बेल्जियम-मोरोकन ओसामा अहमद अतर और मोहम्मद ईसा यूसफ़ सागर अल बिनाली को भी एसडीजीटी ने नामित किया है।

अमेरिकी राज्य के ट्रेजरी विभाग ने गुरुवार को कहा कि, अरमर भारत में इस्लामिक स्टेट समूह का प्रमुख संचालक है। एक बयान में कहा गया कि, उसने ‘इस्लामी स्टेट’ के कई समर्थको को अपने समूह में शामिल किया है जो पूरे भारत में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल हैं। ये लोग अनगिनत गतिविधियों जैसे कि हमलों की साजिश रचने, हथियार खरीदने और आतंकवादी प्रशिक्षण शिविरों के लिए स्थानों की पहचान करने जैसे कार्यो में शामिल हैं।

अमेरिकी विदेश विभाग ने अरमर के उपनाम भी बताये, जो थे – अजन भाई, छोटा मौला और यूसुफ अल-हिंदी। विभाग ने कहा “आज की कार्रवाई अमेरिकी और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को सूचित करती है कि अतर, अरमर और बिनाली आतंकवादी कार्यो में या तो शामिल हैं या उनके उन कृत्यों को अंजाम देने की पूरी सम्भावना है जिस कारण वे महत्वपूर्ण खतरा बन गए हैं।”

इस्लामिक स्टेट समूह में शामिल होने से पहले भटकल में जन्मा अरमर प्रतिबंधित भारतीय मुजाहिदीन समूह का सदस्य था। उसने कथित रूप से जूनियर अल खलीफा-ए-हिंद नामक आतंकवादी समूह की भारत में शाखा शुरू की थी और उसमे कम से कम 30 भारतीयों की भर्ती किया था। वह इस्लामी राज्य समूह के प्रमुख अबू बकर अल-बगदादी के भी करीब माना जाता है।

कहा गया है कि अरमर ने भारत, बांग्लादेश और श्रीलंका के कई युवाओं को फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्मों द्वारा संपर्क किया है। जब 2013 में आतंकवादी यासीन भटकर से पूछताछ की गई, तो इस्लामिक स्टेट समूह के साथ अरमर का संबंध सामने आया था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने उस पर आरोप लगाया है की, उसने दिल्ली और हरिद्वार में अर्ध कुंभ समारोह के दौरान आतंकवादी हमला करने की साजिश रची थी।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT