Tuesday , April 25 2017
Home / International / अमेरिका: हिज़ाब पहनी मुस्लिम महिला कर्मचारी से मारपीट, कहा-‘अब यहां ट्रम्प है’

अमेरिका: हिज़ाब पहनी मुस्लिम महिला कर्मचारी से मारपीट, कहा-‘अब यहां ट्रम्प है’

न्यूयॉर्क। अमेरिका में हिजाब पहनकर काम कर रही एक एयरलाइन की मुस्लिम महिला कर्मचारी पर कुछ लोगों ने नस्ली हमला किया। एक शख्स ने महिला कर्मचारी को लात मारी और उससे बदजुबानी भी की। अधिकारियों ने बताया कि हमलावर ने महिला से कहा, ‘अब यहां ट्रंप हैं और वह तुम सबसे छुटकारा पा लेंगे।’

क्वींस डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी रिचर्ड ए ब्राउन ने गुरुवार को अपने बयान में कहा कि डेल्टा एयरलाइन की कर्मचारी राबिया खान बुधवार को जॉन एफ केनेडी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर डेल्टा स्काई लाउंज में अपने दफ्तर में बैठी थीं, जब वोरसेस्टर निवासी 57 साल का रॉबिन रोड्स वहां आया। रोड्स अरूबा से वहां आया था और मैसाचुसेट्स के लिए अपनी कनेक्टिंग फ्लाइट का इंतजार कर रहा था।

इस बीच वो राबिया के पास पहुंच गया। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक अभियोजकों ने बताया कि रोड्स ने महिला कर्मचारी से पूछा, ‘क्या तुम सो रही हो? क्या तुम प्रार्थना कर रही हो? तुम क्या कर रही हो? ’

इसके बाद रोड्स ने महिला कर्मचारी के दफ्तर के दरवाजे पर खींचकर मुक्का मारा जो महिला कर्मचारी की कुर्सी के पीछे लगा। अभियोजन पक्ष ने कहा कि इस पर राबिया खान ने रोड्स से पूछा कि उसने किया क्या है? इस पर रोड्स ने कहा, ‘तुमने कुछ नहीं किया पर मैं तुम्हें लात मारने जा रहा हूं।’ उन्होंने बताया कि इसके बाद रोड्स ने राबिया के दाहिने पैर पर लात मारी और जब राबिया ने वहां से निकलने की कोशिश की तो उसने लात मारकर दरवाजा बंद कर दिया।

इंडिया टीवी खबर डॉट कॉम की खबर के अनुसार, रोड्स ने महिला का बाहर निकलने का रास्ता भी बंद कर दिया। बयान के मुताबिक जब एक दूसरे शख्स ने उसे शांत करने की कोशिश की तो वह दरवाजे से हट गया। इसके बाद राबिया भाग कर लाउंज की फ्रंट डेस्क तक पहुंची।

अभियोजन ने कहा कि इसके बाद भी रोड्स ने महिला का पीछा नहीं छोड़ा, वह उसके पास गया और घुटनों के बल बैठकर नमाज पढ़ने की नकल करने लगा। इसके बाद वो कथित तौर पर चिल्लाने लगा, ‘इस्लाम, ISIS, अब यहां डोनाल्ड ट्रंप हैं। वह तुम सबसे छुटकारा पा लेंगे। तुम जर्मनी, बेल्जियम और फ्रांस से इस तरह के लोगों के बारे में पूछ सकते हो। तुम देखोगे कि क्या होता है।’ रोड्स पर हमले, अवैध तरीके से बंधक बनाना और घृणा अपराध के तहत उत्पीड़न समेत कई आरोपों में मामले दर्ज किए गए हैं।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT