Saturday , October 21 2017
Home / Featured News / अमेरीका पाकिस्तान से दहश्तगर्दी के ख़िलाफ़ लगातार‌ जंग का ख़ाहां

अमेरीका पाकिस्तान से दहश्तगर्दी के ख़िलाफ़ लगातार‌ जंग का ख़ाहां

अमेरीका चाहता है कि पाकिस्तान दहश्तगर्दी की लानत के ख़िलाफ़ लगातार‌ जंग करे जो ना सिर्फ़ हिंदूस्तान और अमेरीका बल्कि ख़ुद पाकिस्तान केलिए ख़तरा है । अमेरीकी सफ़ीर बराए हिंदूस्तान नेन्सी जय पाउल ने आज जुनूबी एशियाई इलाक़ा से मुताल

अमेरीका चाहता है कि पाकिस्तान दहश्तगर्दी की लानत के ख़िलाफ़ लगातार‌ जंग करे जो ना सिर्फ़ हिंदूस्तान और अमेरीका बल्कि ख़ुद पाकिस्तान केलिए ख़तरा है । अमेरीकी सफ़ीर बराए हिंदूस्तान नेन्सी जय पाउल ने आज जुनूबी एशियाई इलाक़ा से मुताल्लिक़ कई मसाइल पर ख़ातून सहाफ़ीयों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि अमेरीका चाहता है कि हिंदूस्तान अफ़्ग़ानिस्तान मेंनरम ताक़त की हैसियत से अज़ीम तर किरदार अदा करें जबकि अफ़्ग़ानिस्तान में नई जमहूरीयत का क़ियाम अमल में आरहा हो ।

दहश्तगर्दी के ख़िलाफ़ पाकिस्तान की जंग पर तबसरा की ख़ाहिश पर उन्होंने कहा कि मज़ीद कार्रवाई वक़्त का तक़ाज़ा है । उन्होंने कहाकि उन के ख़्याल में हम सब दहश गर्दी के ख़िलाफ़ लगातार‌ कार्रवाई देखने चाहते हैं ये ना सिर्फ़ हिंदूस्तान और अमेरीका बल्कि ख़ुद पाकिस्तान केलिए एक ख़तरा है ।

हम मज़ीद कार्रवाई चाहते मज़ीद कोशिशें देखना चाहते हैं ताहम अमेरीकी सफ़ीर ने खुले अलफ़ाज़ में कहा कि अमेरीका हिंदूस्तान से तवक़्क़ो रखता है कि जंग से तबाह अफ़्ग़ानिस्तान में वो सरमायाकारी करें जैसा कि सदर अफ़्ग़ानिस्तान हामिद करज़ई ने परज़ोर मुतालिबा किया है कि हिंदूस्तान से अमेरीका किस किस्म के किरदार की तवक़्क़ो रखता है ।

इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि सदर करज़ई ने पिछ्ले हफ़्ते अपने एक दौरा के मौके पर खुल कर कह दिया है कि अफ़्ग़ानिस्तान चाहता है कि हिंदूस्तान की तरफ‌ से उन के मुल्क में सरमायाकारी की जाये जिस का अफ़्ग़ानिस्तान सुर्ख़ क़ालीन इस्तिक़बाल करेगा ।

उन्होंने कहा कि हम यक़ीनन उसी किरदार की हिंदूस्तान से तवक़्क़ो रखते हैं ।उन्होंने निशानदेही की कि हिंदूस्तान ने पिछ्ले साल अफ़्ग़ानिस्तान के लिए सरमायाकारी के मौज़ा पर एक कान्फ़्रैंस की मेज़बानी की थी और अफ़्ग़ानिस्तान के साथ दिफ़ाई मुज़ाकरात किए थे ।

उन्होंने कहा कि हिंदूस्तान की नरम ताक़त बहुत ज़्यादा तवज्जु हासिल करसकती है । उन्होंने कहा कि आप के पड़ोस में बहुत से अच्छे वाक़ियात पेश आरहे हैं । अफ़्ग़ानिस्तान केलिए हिंदूस्तान की जमहूरीयत इंतिहाई अहम है । इंतिख़ाबी अमल में इलैक्शन कमीशन का किरदार भी इस केलिए मिसाली है ।

पाउल ने कहा कि इस हक़ीक़त के पेशे नज़र के बाली वुड जैसे तहज़ीबी मुआमलात और दीगर बातें कई रवैयों को मुतास्सिर करती हैं । अफ़्ग़ानिस्तान इस पहलू से हिंदूस्तान से बहुत कुछ सीख सकता है । ख़ातून सहाफ़ीयों के उभरती हुई अफ़्ग़ान सहाफ़ीयों साथ किरदार के पेशे नज़र उन्होंने कहा कि आप को अफ़्ग़ान ख़ातून उभरती हुई सहाफ़ीयों की तर्बीयत करना चाहीए ।

ख़वातीन को दीगर महारतों में भी तर्बीयत की ज़रूरत है । मग़रिबी एशीया के बोहरान के बारे में उन्होंने कहा कि इसराईल केलिए अमरीका की ताईद बरक़रार रहेगी । हालाँकि ग़ज़ा पर इसराईल मुसलसल फ़ौजी हमले कररहा है जिन में शहरी हलाक होरहे हैं । उन्होंने कहा कि आप को ये भी पेशे नज़र रखना चाहीए कि इसराईल पर राकेट हमले किए जा रहे हैं । कोई भी मुल्क एसी कार्रवाई बर्दाश्त नहीं करसकता उसे अपनी हिफ़ाज़त का हक़ हासिल है ।

TOPPOPULARRECENT