Monday , September 25 2017
Home / Delhi / Mumbai / अयोध्या मामला: आडवाणी, जोशी और उमा को उपस्थिति से अपवाद

अयोध्या मामला: आडवाणी, जोशी और उमा को उपस्थिति से अपवाद

लखनऊ: विशेष सीबीआई अदालत ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में साजिश के आरोपों का सामना करने वाले भाजपा नेताओं लालकृष्ण आडवाणी, मुरली जोशी और उमा भारती को हर रोज होने वाली सुनवाई में व्यक्तिगत उपस्थिति अपवाद दिया है। सीबीआई विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने वरिष्ठ भाजपा नेताओं के व्यक्तिगत उपस्थिति से अपवाद अनुरोध स्वीकार कर लिया।

30 मई को अदालत ने उनके खिलाफ आपराधिक साजिश के आरोप तय किए थे क्योंकि उन लोगों ने 1992 में भीड़ को बाबरी मस्जिद गिराने के लिए भड़कायाथा। फास्ट ट्रैक अदालत बाबरी मस्जिद के विध्वंस को लेकर दो अलग मामलों की सुनवाई कर रही है। तीन अन्य जिनके खिलाफ साजिश के आरोप तय किए गए हैं उनमें भाजपा के विनय कटिहार, विश्व हिंदू परिषद के विष्णु हरि डालमिया और साध्वी रीथमब्रा शामिल हैं।

आडवाणी और उमा भारती उन लोगों में शामिल हैं जो सुनवाई के लिए अदालत में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित थे सी सीबीआई अदालत का निर्देश महत्व प्राप्त है क्योंकि उमा भारती राजग सरकार में मंत्री हैं जबकि आडवाणी और श्री जोशी भाजपा पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। दोनों मामलों के आरोपियों पर आपराधिक साजिश और आईपीसी की कई अन्य धाराओं के तहत आरोप लगाए गए हैं। भाजपा के तीन वरिष्ठ नेताओं और अन्य को 50-50 हजार निजी अरोपो पर जमानत दे दी गई है।

TOPPOPULARRECENT