Monday , August 21 2017
Home / Featured News / अरुण जेटली जैसों को खिलाड़ियों के दर्द का पता नहीं: कीर्ति आज़द

अरुण जेटली जैसों को खिलाड़ियों के दर्द का पता नहीं: कीर्ति आज़द

लखनऊ। भाजपा सांसद और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी कीर्ति आज़ाद की वित्त मंत्री अरुण जेटली को लेकर नाराज़गी अभी भी बरकरार है। जेटली पर निशाना साधने का वह कोई भी मौका हाथ से जाने नहीं देते। लखनऊ में भी उन्होंने उनपर जोरदार हमले किए। एक कार्यक्रम में कहा कि अरुण जेटली जैसे लोगों को क्या पता खिलाड़ियों का दर्द। आज़ाद ने गैर खिलाड़ियों के खेल संघों पर हावी होने की भी आलोचना की।
कीर्ति आज़ाद यहाँ हॉकी खिलाड़ी केडी सिंह बाबू की याद में आयोजित सम्मान समारोह में भाग लेने आये थे। इस दौरान उन्होंने विभिन्न खेलों के कोचों को सम्मानित किया। इनमें डागलेर शेफड, गोपाल सिंह, मोहम्मद रज़ा,दलजीत सिंह, विमला सिंह, रूपा चौरसिया, रागनी दीक्षित आदि शामिल हैं। इस दौरान कीर्ति आज़ाद ने अरुण जेटली पर जम कर गुस्सा निकाला। उन्हों कहा कि गैर खिलाड़ी खेल संघों का बंटाधार कर रहे हैं। बता दें कि जेटली डीसीसीआई के वरिष्ठ पदाधिकारी हैं। उन्होंने बगैर किसी राजनेता का नाम लिए आरोप लगाया कि सियासतदानों ने स्पोर्ट्स एसोसिएशन के पदों पर बैठकर केवल माल ही बटोरे हैं। भ्रष्टाचार का मामला आने पर खुद ही जांच कर लेते हैं। उन्होंने खेलों में सुधार के लि‍ए टास्क फोर्स बनाने के लिए पीएम को धन्यवाद दिया। साथ ही यह भी कहा कि टास्क फ़ोर्स में नेताओं को रखा गया तो बेड़ागर्क हो जाएगा। उन्होंने आईपीएल मैच फिक्सिंग में फंसे ललित मोदी का बचाव किया। कहा कि‍ जो लोग अभी बड़ी जगह परबबैठे हैं उनके सामने ललित मोदी साधू हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसे लोगों ने ही 2009 में आरबीआई की बिना परमीशन के देश के बाहर 1004 करोड़ रुपए खपा दिए। बता दें , अभी क्रिकेट बोर्ड में अरुण जेटली, शरद पवार, राजीव शुक्ला जैसे सियासी लोग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि जब आईपीएल में फिक्सिंग का मामला आया तो खुद ही जांच कमेटी बना ली। खुद ही जांच कर लि‍या। उन्होंने एक हॉकी खिलाड़ी के साइकिल पर कपड़ा बेचने का जिक्र आने पर दुःख ज़ाहिर किया। कहा कि हमारा खिलाड़ी कपड़ा बेच रहा है। ये हमारे लिए शर्म की बात है। उन्होंने कहा कि हॉकी खिलाड़ी इरफान ट्रैक सूट बेच रहे हैं। इससे ज्यादा शर्म की क्या बात हो सकती है। खेल के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर तक नहीं है।

यूपी से मलिक असग़र हाशमी

TOPPOPULARRECENT