Friday , September 22 2017
Home / Crime / अलक़ायदा की माली मदद करने वाले अमरीकी भाईयों का हैदराबाद से ताल्लुक़

अलक़ायदा की माली मदद करने वाले अमरीकी भाईयों का हैदराबाद से ताल्लुक़

हैदराबाद 09 नवंबर:अमरीका के ख़िलाफ़ जद्द-ओ-जहद के लिए अलक़ायदा के आला कारों को माली इमदाद फ़राहम करने के इल्ज़ाम में एफ़ बी आई की तरफ से गिरफ़्तार किए गए दो एन आर आई बिरादरान का ताल्लुक़ हैदराबाद से होने की तौसीक़ की गई है।

37 साला मुहम्मद यहया फ़ारूक़ और इस के भाई 36 साला मुहम्मद इबराहीम ज़ुबैर को फेडरल ब्यूरो आफ़ इन्वेस्टीगेशन ने अमरीका के ख़िलाफ़ तशद्दुद-ओ-जिहाद के लिए अलक़ायदा लीडर अनवर ओलक़ी को क्रेडिट कार्ड के ज़रीये मआशी मदद फ़राहम की थी।

अमरीकी खु़फ़ीया एजेंसी ने मज़कूरा दोनों भाईयों के अलावा आसिफ़ अहमद सलीम और इस के भाई सुलतान सलीम को भी गिरफ़्तार किया है। फ़ारूक़ और इबराहीम की गिरफ़्तारी के बाद एफ़ बी आई ने हिन्दुस्तानी इंटेलिजेंस एजेंसीयों को अमरीका के ख़िलाफ़ जिहाद में शामिल् होने पर उनकी गिरफ़्तारी और दहशत गर्दी क़वानीन के तहत गिरफ़्तारी की इत्तेला दी थी।

बावसूक़ ज़राए ने बताया कि इंटेलिजेंस एजेंसीयों ने अमरीका में गिरफ़्तार एन आर आई बिरादरान का पता हैदराबाद में कामयाब तौर पर लगा लिया है। बताया जाता हैके मुहम्मद यहया फ़ारूक़ साकिन अकबरबाग़ , मुहम्मद अहमद शाकिर और आरिफ़ अलनिसा का बेटा है और उसने उस्मानिया यूनीवर्सिटी से 1995 से 1999 तक इंजनीयरिंग की तालीम हासिल की और बादअज़ां अमरीका की लोई साना यूनीवर्सिटी को मज़ीद तालीम के लिए रवाना हो गया था।

2002 में फ़ारूक़ ने मास्टर्स की डिग्री हासिल की और उसने अमरीकी शहरी नबीला तलअत नामी लड़की से शादी की। जबके उसने अमरीकी शहरीयत हासिल करने से गुरेज़ किया। जबकि उस का भाई मुहम्मद इबराहीम ज़ुबैर ने 2001-05तक इंजीनीयरिंग की तालीम हासिल की।

एफ़ बी आई ने अपने इल्ज़ामात में ये बताया हैके फ़ारूक़ और इबराहीम ने अमरीका के ख़िलाफ़ जिहाद छेड़ने की ग़रज़ से क्रेडिट कार्ड के ज़रीये अलक़ायदा को माली इमदाद का मन्सूबा तैयार किया था और इस सिलसिले में दोनों भाईयों ने ई मेल्स का तबादला किया जिसे एफ़ बी आई ने हासिल कर लिया।

TOPPOPULARRECENT