Tuesday , October 17 2017
Home / Bihar News / अल कायदा के पैसे से हुआ था पटना धमाका

अल कायदा के पैसे से हुआ था पटना धमाका

पाकिस्तानी दहशतगर्द तंजीम अल कायदा के पैसों से पटना में दहशतगर्द हमले की साजिश रची गयी थी। पाकिस्तान के दहशतगर्द तंजीम लश्कर-ए-तैयबा इंडियन मुजाहिदीन के ताल्लुक अल कायदा जैसे दहशतगर्द तंजीमो से भी हैं। इसका खुलासा एनआइए ने पटन

पाकिस्तानी दहशतगर्द तंजीम अल कायदा के पैसों से पटना में दहशतगर्द हमले की साजिश रची गयी थी। पाकिस्तान के दहशतगर्द तंजीम लश्कर-ए-तैयबा इंडियन मुजाहिदीन के ताल्लुक अल कायदा जैसे दहशतगर्द तंजीमो से भी हैं। इसका खुलासा एनआइए ने पटना सीरियल धमाका को लेकर पटना वाकेय एनआइए के स्पेशल कोर्ट में दाखिल अपने पहले चार्जशीट में किया है।

इसमें इंडियन मुजाहिदीन का पूरे जुनूबी भारत में ऑपरेशन करनेवाले तहसीन अख्तर उर्फ मोनू के बारे कोई खास जिक्र नहीं किया गया है, जबकि मोनू को पटना के गांधी मैदान थाने में सनाह दर्ज़ में इस दहशतगर्द हमले का अहम मुलाजिम बनाया गया था।

चार्जशीट में एनआइए ने आइएम की कई सरगरमियों के ताल्लुक में स्पेशल कोर्ट को पुख्ता सबूत दस्तयाब कराये हैं। इनमें तहसीन अख्तर व पाक में बैठे अल कायदा के ऑपरेशन करें वाले के दरमियान फोन पर हुई बातचीत का तफ़सीलात शामिल है। इस बातचीत के सिलसिले में एनआइए ने ढाई पन्नों की रिपोर्ट भी अदालत को दस्तयाब करायी है, जिसमें तहसीन को जुनूबी भारत में आइएम के ऑपरेशन के लिए बाइरून मुल्क से फंडिंग की बात वाजेह होती है।
हालांकि, पटना धमाका के सिलसिले में एनआइए ने मोनू को इस मामले का फिलहाल नामजद मुल्ज़िम नहीं बनाया है। यह चार्जशीट सिर्फ धमाके की सुबह पटना जंकशन पर पकड़ा गया इम्तियाज व रेकी करनेवाले ताबिश नियाज की बहस की है। ताबिश को एनआइए की टीम ने धमाकों के तीन दिन बाद मधुबनी से गिरफ्तार किया था। एनआइए ने स्पेशल कोर्ट को इम्तियाज व ताबिश से कैमरे के सामने हुई पूछताछ की वीडियोग्राफी भी फराहम करायी है, जो पटना धमाके को लेकर इम्तियाज व ताबिश की साजिश का बयान कर रहा है।

चार्जशीट में मोनू के खिलाफ एनआइए की तरफ जुटाये गये सबूतों की बुनियाद पर कहा गया है कि मोनू पाक में बैठे लश्कर-ए-तैयबा व अल कायदा के आकाओं के हुक्म पर मुल्क में दहशतगर्द वारदात के ऑपरेशन के लिए रंगरूटों की फौज तैयार कर रहा था।

मोनू के खिलाफ अलग से दायर होगी चाजर्शीट

एनआइए से जुड़े ज़राए बताते हैं कि पटना धमाके में तहसीन अख्तर उर्फ मोनू की किरदार को लेकर एनआइए बहुत जल्द ही अलग से अपना चार्जशीट दायर करेगी। इम्तियाज व ताबिश ने पूछताछ में कुबूल किया है कि सिमी अहम हैदर अली और तहसीन अक्सर पाकिस्तान में बैठे में अपने आकाओं से बातचीत करते थे और उन्हें वहीं से हिदायत मिलते थे।

TOPPOPULARRECENT