Monday , August 21 2017
Home / India / अवामी मसाइल से राह फ़रारी के लिए बैरूनी दौरे

अवामी मसाइल से राह फ़रारी के लिए बैरूनी दौरे

मुंबई: वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी के मुतवातिर बैरूनी दौरों पर एतराज़ करते हुए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना सदर राज ठाकरे ने आज ये इल्ज़ाम आइद किया है कि हिन्दुस्तान की तारीख में नरेंद्र मोदी पहले वज़ीरे आज़म है जिनका ज़्यादा तर वक़्त बैरूनी ममालिक में गुज़रा । उन्होंने कहा कि हमने किस नवीत की हुकूमत मुसल्लत करली है जो कि कारकर्दगी का मुज़ाहरा करने की बजाय हर एक चीज़ पर तहदेदात लगा रही है।

हम एक एसा वज़ीरे आज़म भी रखते हैं जो कि हिन्दुस्तान में कम बैरूनी ममालिक में ज़्यादा वक़्त गुज़ारता है। मिस्टर ठाकरे आज यहां इंडिया टूडे के कनक्लेव से मुख़ातिब थे। उन्होंने वज़ीरे आज़म का तम्सख़र उड़ाते हुए कहा कि मैं ने सुना है कि सलमान ख़ां , फ़िल्म बजरंगी भाई जान 2 बनाने वाले हैं।

जिस में ये देखा जा सकता है कि वो नरेंद्र मोदी को बैरूनी ममालिक से हिन्दुस्तान वापिस ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2015 तक नरेंद्र मोदी ने 28 बैरूनी दौरे किए हैं। जिस में ज़्यादा तर एशियाई ममालिक के दौरे शामिल हैं। मुंबई । अहमदाबाद के दरमियान बुलेट ट्रेन की तजवीज़ पर तन्क़ीद करते हुए मिस्टर राज ठाकरे ने सुपर फ़ास्ट ट्रेन की शुरूआत के मक़ासिद पर सवालात उठाए और कहा कि सिर्फ मुंबई – अहमदाबाद के दरमियान ही बुलेट ट्रेन क्यों ? दूसरी रियासतों के लिये क्यों नहीं , इस ट्रेन का मक़सद है क्या हम गुजरात जाएं और ढोकला ( गुजराती गिज़ा) खा कर वापिस आएं।

उन्होंने कहा कि बी जे पी और शिवसेना के दरमियान तात्तुल के बावजूद हुकूमत बला रुकावट चल रही है। बज़ाहिर ये दोनों जमाअतें सस्ती शौहरत के लिये दस्त-ओ-गरीबां है लेकिन इस तरिक़े से मियां बीवी भी नहीं लड़ते। अगर कि चीफ मिनिस्टर का कहना है कि सब कुछ ठीक है लेकिन शैव सुना के वुज़रा से पूछा गया तो हक़ीक़त कुछ और ज़ाहिर होती है।

अब तो सिर्फ बी जे पी में और इस की हलीफ़ जमातों के अच्छे दिन चल रहे हैं। ताहम ग़ज़ल गुलूकार ग़ुलाम अली के ख़िलाफ़ शिवसेना के एहतेजाज की ताईद करते हुए राज ठाकरे ने कहा कि ये मुख़ालिफ़त ग़ुलाम अली के लिये नहीं है बल्कि हमारे फ़नकारों को पाकिस्तान में वो पज़ीराई नहीं मिलती जिसके वो मुस्तहिक़ हैं।

TOPPOPULARRECENT