Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / अवामी मसाएल हल करने वाला निर्मल बाबा ख़ुद मसाएल का शिकार

अवामी मसाएल हल करने वाला निर्मल बाबा ख़ुद मसाएल का शिकार

लाखों अफ़राद के मसाएल एक पल में हल करने का दावा करने वाला शख़्स आज ख़ुद मसाएल में घिर चुका है और ग़ैर मह्सूब दौलत के ताल्लुक़ से इस शख़्स को हुक्काम की तफ्तीश का सामना है । झारखंड के एक हिन्दी रोज़नामा प्रभात ख़बर ने ये इत्तेला देते हुए

लाखों अफ़राद के मसाएल एक पल में हल करने का दावा करने वाला शख़्स आज ख़ुद मसाएल में घिर चुका है और ग़ैर मह्सूब दौलत के ताल्लुक़ से इस शख़्स को हुक्काम की तफ्तीश का सामना है । झारखंड के एक हिन्दी रोज़नामा प्रभात ख़बर ने ये इत्तेला देते हुए सनसनी फैला दी कि निर्मल बाबा के दो बैंक एकाउंट्स में सिर्फ 3 माह के अंदर 109 करोड़ रुपये जमा करवाए गए हैं ।

इस इन्केशाफ़ के साथ ही मुल्क भर में उन के बैंक एकाउंट्स के साथ साथ रुकमी लेन देन की तहक़ीक़ात शुरू हो चुकी हैं । निर्मल बाबा टेलीविज़न चैनल पर पेश होते हुए अवाम के मसाएल अपने मश्वरों के ज़रीया हल करने का दावा किया करते हैं । उन्होंने अंदरून तीन माह असासा जात में ग़ैरमामूली इज़ाफ़ा की तरदीद करते हुए कहा कि इनका सालाना टर्न ओवर 234 करोड़ रुपये है और वो इनकम टैक्स बाक़ायदा अदा किया करते हैं ।

इस अख़बार ने बताया कि निर्मल बाबा ऐसे अफ़राद से जो अपने मसाएल के साथ रुजू होते हैं उन्हें हल करने के लिए उन की तनख़्वाह का 10 फ़ीसद हिस्सा तलब किया करते थे । यही नहीं बल्कि वो प्रोग्राम का हिस्सा बनने वाले ख़ाहिशमंद शुर्का से फी कस दो हज़ार रुपये वसूल किया करते थे ।

ये रक़म रास्त उन के बैंक एकाउंट में मुंतक़िल की जाती । प्रभात ख़बर ने ये दावा किया है कि एक ख़ानगी बैंक में निर्मल बाबा ने 53 करोड़ रुपय की रक़म मुंतक़िल की है । इसके इलावा एक और सरकर्दा बैंक में उन के 25 करोड़ रुपय फिक्स्ड डिपाज़िट है । लेकिन निर्मल बाबा ने इन तमाम इल्ज़ामात की तरदीद की है और कहा कि उन्होंने कभी अवाम से अपने मसाएल हल करवाने के लिए रक़म जमा कराने की ख़ाहिश नहीं की ।

इसके इलावा उन्होंने कभी ये दावा भी नहीं किया कि अवाम के मसाएल पलक झपकते ही हल हो जाएंगे । इस अख़बार के मुताबिक़ निर्मल बाबा के दो एकाउंटस हैं जिन में एक निर्मल जीत सिंह नरूला ( इन का हक़ीक़ी नाम ) और दूसरा एकाउंट निर्मल दरबार के नाम से है । निर्मल बाबा 1950 में सिक़्ख घराने में पैदा हुए और वो साबिक़ स्पीकर झारखंड असेंबली इंदर सिंह नमधारी के रिश्तेदार हैं ।

निर्मल बाबा के तक़रीबन 35चैनल्स पर इश्तेहारात दिखाए जाते हैं और फेसबुक पर तक़रीबन 3 लाख ट्वीटर पर तक़रीबन 42 हज़ार उन के चाहने वाले हैं । इस दौरान दो अफ़राद ने निर्मल बाबा के ख़िलाफ़ लखनऊ पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है कि वो अवामी मसाएल हल करने का दावा करते हुए मासूम अफ़राद को धोका दे रहे हैं ।

TOPPOPULARRECENT