Thursday , August 17 2017
Home / Featured News / असम और पश्चिम बंगाल में चुनाव अभियान का अंत

असम और पश्चिम बंगाल में चुनाव अभियान का अंत

गुवाहाटी: असम में जोर-शोर से जारी अभियान समाप्त हो गया जहां कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करने के लिए भाजपा एड़ी-चोटी का जोर लगा रही थी। 126 विधानसभा क्षेत्रों में से 61 क्षेत्रों में दूसरे और अंतिम चरण के चुनाव 11 अप्रैल को आयोजित किया जाएगा। पश्चिम बंगाल के 3 जिलों पश्चिमी मिदनापुर, बनकोरह और ब्रावाना शामिल 31 विधानसभा क्षेत्रों में भी चुनाव प्रचार ख़तम हो गया जहां दूसरे चरण के चुनाव सोमवार को आयोजित होंगे।

इन चुनावों में कई एक विपक्षी नेताओं के भाग्य का फैसला होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा। अगप। बी पीएफ एकता अभियान का नेतृत्व करते हुए असम में 14 चुनावी रैलियों को संबोधित किया। सीमा पार से घुसपैठ निवेश चुनाव अभियान का मूल विषय रही जबकि पूर्व और निचले असम के कई एक विधानसभा क्षेत्रों में अल्पसंख्यकों के वोट निर्णायक साबित होंगे। भाजपा ने यह वादा किया है कि भारत। बांग्लादेश सीमा को पूरा बंद करते हुए हस्तक्षेप किया समस्या का समाधान किया जाएगा, जबकि कांग्रेस का यह तर्क है कि असम में कोई बांग्लादेशी नहीं है और तरुण गोगोई आभरकयादत सरकार नेशनल रजिस्टर ऑफ स्टेज़नस डेटा के नवीकरण के लिए उल्लेख किया है ताकि संदिग्ध निवासियों की पहचान की जा सके।

भाजपा ने मतदाताओं से अपील की है कि राज्य में परिवर्तन और विकास के लिए वोट दें, जबकि कांग्रेस ने 15 साल के राज में अपनी उपलब्धियों सहित शांति बहाली को उजागर किया है।

TOPPOPULARRECENT