Tuesday , May 30 2017
Home / Assam / West Bengal / अस्पताल कारोबार की जगह नहीं है बल्कि सेवा और कुर्बानी है- ममता बनर्जी

अस्पताल कारोबार की जगह नहीं है बल्कि सेवा और कुर्बानी है- ममता बनर्जी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर निजी अस्पतालों व नर्सिंग होम को हिदायत दी है। अनाप-शनाप पैसा वसूलने को लेकर निजी अस्पतालों पर अपने रवैये को आैर सख्त करते हुए मुख्यमंत्री ने अस्पतालों को कसाईखाना नहीं बनने की नसीहत दी है। सोमवार को न्यू टाउन में एक निजी अस्पताल के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सुश्री बनर्जी ने प्राइवेट नर्सिंग होम को फिर याद दिलाया कि अस्पताल व्यवसाय की जगह नहीं हैं, बल्कि यह सेवा आैर कुरबानी है।

कुछ निजी अस्पतालों के रवैये पर कटाक्ष करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों के सामने तो निजी अस्पताल प्रबंधन अच्छा दिखने का प्रयास करते हैं, पर आम लोगों के साथ आप का व्यवहार अच्छा नहीं होता है। मुख्यमंत्री ने कहा, मैं यह विश्वास करती हूं कि सभी लोग गलत नहीं है।

हर जगह अच्छे व बुरे लोग होते हैं, पर जब सब्र का बांध टूट जाता है तो सब कुछ बिखर जाता है। उन्होंने कहा कि काफी ऐसे लोग हैं, जो सारा जीवन लोगों की सेवा करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि काफी लोग उनके पास आते हैं आैर रो-रो कर अपना दर्द बयान करते हैं।

अपोलो का नाम लिये बगैर एक बार फिर उस पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि एक नर्सिंग होम ने तो इलाज के नाम पर जिंदगी भर की कमाई फिक्स्ड डिपॉजिट के कागजात तक ले लिया, क्या यह अति नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जगह हस्तक्षेप करना हमारा काम नहीं है, पर हर चीज की एक सीमा होती है।

आपने निवेश किया है, रखरखाव पर खर्च होते हैं, डॉक्टरों को रुपये देने पड़ते हैं, अस्पताल की इमारत के रखरखाव आदि का खर्च है, यह सब खर्च आप उठायें, लेकिन इतना याद रखें कि अस्पताल आैर कसाईखाना एक नहीं होता है।

कहां टेस्ट करवाना है, यह भी अस्पतालवाले ही तय करने लगे हैं। कुछ अस्पताल रोग का भय दिखा कर मरीजों से रुपये वसूलते हैं। हमारे यहां केवल राज्य के ही नहीं, उत्तर-पूर्व, बिहार, भूटान, झारखंड, आेड़िशा, नेपाल से लोग इलाज के लिए आते हैं। अपनी सामर्थ्य के हिसाब से सभी काे सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा दी जा रही है। निजी अस्पताल को भी मानवता को साथ लेकर काम करना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि डॉक्टरों पर भी यह दबाव डाला जाता है कि आपको इस महीने इतने रोगियों को देखना होगा आैर इतने टेस्ट करवाने होंगे। लोग मर जाते हैं, फिर भी उनका ऑपरेशन किया जाता है आैर चार्ज वसूलने के लिए ऐसे ऑपरेशन रात में किये जाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी के खिलाफ आरोप नहीं है, पर कुछ के खिलाफ आरोप जरूर हैं।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT