Sunday , August 20 2017
Home / Mumbai / अस्पताल में भर्ती पति के इलाज के लिए दिन भर बैंकों में परेशान पत्नी

अस्पताल में भर्ती पति के इलाज के लिए दिन भर बैंकों में परेशान पत्नी

मुंबई। मंगलवार को 1000 और 500 के नोट पर बैन के बाद जहां इसे कालेधन पर कड़ा प्रहार कहा जा रहा है, वहीं इससे आम जनता को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मुंबई में एक महिला को बीमार पति के लिए बैंक से पैसा निकालने के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

मंगलवार को पीएम मोदी के 500 और 1000 के नोट पर बैन के ऐलान के बाद लोगों की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं। खासतौर से उन लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, जो बीमार हैं या फिर जिनके यहां शादी है।

गुरूवार को मुंबई में पति के ऑपरेशन के लिए रुपयों की जरूरतमंद एक महिला की परेशानी इतनी बढ़ गई कि उसकी आंखों में आंसू आ गए। मुंबई के दहिसर की रहने वाली एल मेनन नाम की महिला गुरूवार को तीन बैंकों में गई लेकिन उसे पैसा ना मिल सका। महिला ने बतााय कि उनके पास पैसा है और तीन बैंकों में खाता भी है। इसके बावजूद वो गुरूवार को पैसा निकालने में नाकामयाब रही।

महिला ने बताया कि उसके पति को किडनी में पथरी है, उनको हाई ब्लड प्रेशर की भी परेशानी है। गुरूवार को परेशानी बढ़ी तो उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों नें सर्जरी की सलाह दी। महिला ने बताया कि अगर सर्जरी के लिए एक-दो दिन रुक भी जाएं तो दवाओं के लिए तो पैसे चाहिए ही। ऐसे में वो सुबह ही बैंक पहुंच गईं।

मेनन ने बताया कि जिस बैंक वो पहुंची वहां कुछ घंटे के बाद ही कैश खत्म होने की बात कह दी गई। वहीं दूसरे ने 2 बजे के बाद कूपन देना बंद कर दिया क्योंकि भीड़ बहुत बढ़ गई थी। वो तीसरे बैंक भी गईं लेकिन पैसा निकाल पाने में कामयाब नहीं हो पाईं।

महिला ने कहा कि अचानक हुए फैसले से परेशानी हुई है। उन्होंने कहा कि अगर घर में सब ठीक होता तो बहुत दिक्कत नहीं आती लेकिन पति की बीमारी की वजह से बहुत मुश्किल पेश आ रही है।

TOPPOPULARRECENT