Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / आंध्र प्रदेश के लिए मेडिकल की 400 नशिस्तों में इज़ाफ़ा

आंध्र प्रदेश के लिए मेडिकल की 400 नशिस्तों में इज़ाफ़ा

हैदराबाद 10 जुलाई: मर्कज़ी हुकूमत रियासत आंध्र प्रदेश की मेडिकल नशिस्तों में इज़ाफे का मंसूबा तैयार किया है। तालीमी साल 2013-14में एमबी बी एस में दाख़िले के ख़ाहिशमंद तलबा को ये जान कर ख़ुशी होगी कि मर्कज़ी हुकूमत‍ ओ‍ मेडिकल कौंसिल आफ़ इं

हैदराबाद 10 जुलाई: मर्कज़ी हुकूमत रियासत आंध्र प्रदेश की मेडिकल नशिस्तों में इज़ाफे का मंसूबा तैयार किया है। तालीमी साल 2013-14में एमबी बी एस में दाख़िले के ख़ाहिशमंद तलबा को ये जान कर ख़ुशी होगी कि मर्कज़ी हुकूमत‍ ओ‍ मेडिकल कौंसिल आफ़ इंडिया ने तक़रीबन 800 नशिस्तों के इज़ाफ़ा का मंसूबा तैयार किया है लेकिन फ़िलफ़ौर 400 नशिस्तों का इज़ाफ़ा यक़ीनी तसव्वुर किया जा रहा है।

आंध्र प्रदेश में जहां 5500 नशिस्तें हुआ करती थी इस में 400 नशिस्तों के इज़ाफे के बाद ये नशिस्तें 5900 होजाएंगी। रियासत के सरकारी-ओ-ख़ानगी मेडिकल कॉलेजस की जुमला नशिस्तों में इज़ाफे के मुताल्लिक़ बताया जाता हीके मेडिकल कौंसिल आफ़ इंडिया ने बाअज़ मेडिकल कॉलेजस में सहूलतों की अदमे मौजूदगी की बिना पर उनकी तजदीद नहीं की है और ये नशिस्तें दुसरि मेडिकल कॉलेजस को हवाले करने का फ़ैसला किया है।

रियासत में एन टी आर हेल्थ यूनिवर्सिटी के तहत कामिनी इंस्टिट्यूट आफ़ मेडिकल साईंस को 150 नशिस्तों के साथ एक नए मेडिकल कॉलेज का इजाज़तनामा भी दिया जा चुका है।

साथ ही रियास्ती हुकूमत की तरफ से निज़ामबाद में क़ायम किए जाने वाले सरकारी मेडिकल कॉलेज को 100 नशिस्तों के साथ मंज़ूरी हासिल होचुकी है।

प्रोफ़ैसर आई वाइस चांसलर एन टी आर हेल्थ यूनिवर्सिटीके बमूजब मज़कूरा इज़ाफ़ी नशिस्तों की तौसीक़ होचुकी है जबकि माबकी नशिस्तों की तौसीक़-ओ-तक़सीम के मुताल्लिक़ तफ़सीलात का हुसूल बाक़ी है।

रियास्ती हुकूमत के तहत चलाए जाने वाले उस्मानिया मेडिकल कॉलेज में भी 50 नशिस्तों का इज़ाफ़ा किया गया है। इसी तरह गांधी मेडिकल कॉलेज को भी 50 इज़ाफ़ी नशिस्तें मंज़ूर किए जाने की इत्तेलाआत हैं।

बावसूक़ ज़राए से मौसूला इत्तेलाआत के बमूजब एन टी आर हेल्थ यूनिवर्सिटी इंतेज़ामीया ने 19 ता 26 जुलाई एमबी बी एस और बी डी एस कौंसलिंग मुनाक़िद करने का फ़ैसला किया है जबकि इस सिलसिले में तफ़सीली शैडूल की इजराई का अमल बाक़ी है।

बताया जाता हैके मर्कज़ी वज़ीर वज़ीर-ए-सेहत ग़ुलाम नबी आज़ाद ने 10 साल पुराने कॉलेजस में 50 नशिस्तों तक के इज़ाफे की तजवीज़ की तौसीक़ की है।

उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में अहकामात की इजराई बाक़ी है। मेडिकल कौंसिल आफ़ इंडिया कीतरफ से कॉलेजस में मौजूद असरी सहूलतों और इंफ्रास्ट्रक्चर की बुनियाद पर नशिस्तों में इज़ाफे के मुताल्लिक़ क़तई फ़ैसला किया जाएगा।

आंध्र प्रदेश में मौजूद 5500 मेडिकल नशिस्तों में 400 नशिस्तों के इज़ाफे से रियासत के तलबा को ज़बरदस्त फ़ायदा हासिल होने की तवक़्क़ो है। रियासत में फ़िलहाल जुमला 35 मेडिकल कॉलेजस मौजूद हैं जिन में ख़ानगी-ओ-सरकारी कॉलेजस शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT