Monday , June 26 2017
Home / Sports / आइपीएल 10 : मुंबई की टीम तीसरी बार टूर्नामेंट जीतने की करेगी आज कोशिश

आइपीएल 10 : मुंबई की टीम तीसरी बार टूर्नामेंट जीतने की करेगी आज कोशिश

हैदराबाद : मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने अपनी टीम को आइपीएल 10 के फाइनल तक पहुंचाने में सफल रहे. अब फाइनल में उनका सामना स्टीव स्मिथ की पुणे से है लेकिन रोहित को ये अच्छी तरह पता है कि पुणे की टीम को संभालने का काम पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी भी कर रहे हैं. अब ये तो साफ है कि रोहित के दिमाग का सामना सिर्फ स्मिथ ही नहीं धोनी के दिमाग से भी होगा.

मुंबई की टीम चौथी बार फाइनल खेलेगी और तीसरी बार टूर्नामेंट जीतने की कोशिश करेगी, वहीं पुणे टीम अपना पहला खिताब जीतना चाहेगी. पुणे टीम मुंबई को ही हराकर फाइनल में पहुंची थी. आईपीएल 10 के लीग राउंड में दोनों ही टीमें दो बार भिड़ी थी, जिनमें दोनों ही मैच पुणे के नाम रहे थे. फिर क्वालिफायर मुकाबले में भी मुंबई को हार का मुंह देखना पड़ा था. पिछले तीन मुकाबलो में हारने के बाद मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा पर फाइनल मैच में टीम को जीत दिलाने का दबाव होगा.

पिछले सीजन यानी साल 2016 में पुणे और मुंबई के बीच दो मैच हुए थे. पहले मैच में पुणे ने 9 विकेट से जीत हासिल की थी जबकि दूसरे मैच में पुणे को उसके होम ग्राउंड पर मुंबई इंडियंस ने 8 विकेट से शिकस्त दी थी.

ओवऑल प्रदर्शन की बात करें, तो मुंबई इंडियंस लीग राउंड में 20 अंकों के साथ टॉप पर रही थी, जबकि राइजिंग पुणे सुपरजायंट टीम 18 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर रही थी. मुंबई ने 14 मैचों में 10 मैचों में जीत दर्ज की, जबकि स्टीव स्मिथ की कप्तानी में पुणे ने 14 मैचों में 9 मैच जीते थे.

मुंबई की टीम दो बार साल 2013 और 2015 में आईपीएल चैंपियन रही थी जबकि 2010 में उसे चेन्नई सुपरकिंग्स से हारकर रनर अप रहना पड़ा था. आईपीएल के अपने दोनों फाइनल में मुंबई ने चेन्नई सुपर किंग्स को शिकस्त दी थी. 2013 में टीम ने चेन्नई को 23 रन से और 2015 में 41 रन से हराकर चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था.

2016 के सीजन में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट की एंट्री धमाकेदार रही थी. इसने मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस को 9 विकेट से पहले मैच में ही मात दी थी, लेकिन वह आगे अपनी लय को बरकरार नहीं कर सकी. अगले चार मैचों में उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था. हार जीत का यह सिलसिला चलता रहा था और पूरे सीजन में टीम केवल 14 में से 5 मैच ही जीत सकी थी.

मुंबई इंडियंस के बल्लेबाजों खासतौर से नीतिश राणा, लिडंल सिमंस, पोलार्ड, पार्थिव पटेल ने पूरे सीजन में शानदार खेल दिखाया है, वहीं हार्दिक पांड्या और उनके भाई क्रुणाल पांड्या टीम के लिए ट्रंप कार्ड साबित हुए हैं. डेथ ओवरों में जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन अच्छा रहा है. हार्दिक और वह मिलकर पुणे के बल्लेबाजों पर अंकुश लगा सकते हैं.

पुणे के लिए बल्लेबाजी में राहुल त्रिपाठी, कप्तान स्टीव स्मिथ और एमएस धोनी शानदार फॉर्म में हैं. उसके तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट (22 विकेट), शार्दुल ठाकुर (11 विकेट) और डैनियल क्रिश्चियन (9 विकेट) ने अच्छा प्रदर्शन किया है, वहीं स्पिन में ऑस्ट्रेलिया के एडम जम्पा पिछले कुछ मैचों से अच्छा खेल रहे हैं.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT