Wednesday , August 16 2017
Home / test / आईएस के संदिग्धों का खुलासा : निशाने पर थे RSS के नेता और हाईकोर्ट के जज

आईएस के संदिग्धों का खुलासा : निशाने पर थे RSS के नेता और हाईकोर्ट के जज

दिल्ली : संदिग्ध ने IS चीफ बगदादी से संबंधों के बारे में कबूला, बताया- हमारे निशाने पर थे RSS के नेता और हाईकोर्ट के जज केरल में पकड़े गए आंतकी संगठन आईएसआईएस के संदिग्धों से पता चला है कि उनकी हिट लिस्ट में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) के कई वरिष्ठ नेता और हाई कोर्ट के जज शामिल थे। यह खुलासा संदिग्धों ने एनआईए से पूछताछ में किया है। रिपोर्ट के मुताबिक संदिग्धों की हिट लिस्ट में शामिल लोगों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पूछताछ में आईएस के संदिग्धों ने खुलासा किया है कि उनकी योजना राज्य के (केरल) के आरएसएस नेताओं और हाई कोर्ट के जजों को मारने की थी।

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि आईएस संदिग्धों की ओर से पहली बार ऐसा स्वीकार किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक संदिग्धों की हिट में कम से कम आरएसएस के आठ नेता और केरल हाई कोर्ट के जज शामिल हैं। जांच एजेंसी एनआईआई ने आईएस से संबंध रखने वाले इन संदिग्धों को केरल और तमिलनाडु से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए संदिग्धों की पहचान उमर अल हिंदी, अबु बशीर, युयुफ, सफवान पी, जसीम और रमशाद नागलीन के रूप में हुई है। इस मॉड्यूल का सरगना उमर अली हिंदी है। हालांकि एजेंसी ने एक और आईएस के संदिग्ध को हिरातस में लिया है जो इस IS मॉड्यूल से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि ये संदिग्ध केरल से गायब हुए 21 लोगों में से नहीं हैं।
वीडियो: जनसत्ता न्यूज़ बुलेटिन

रिपोर्ट्स के मुताबिक IS मॉड्यूल के सरगना उमर अल हिंदी ने एक नए आतंकी संगठन अंसार-उल-खिलाफ (Ansar-ul Khilafah Kerala) के बारे में बताया है और आईएसआईएस के सरगना अबु बकर अल बगदादी से अपने संबंधों को भी स्वीकार किया है। गौरतलब है कि केरल से 21 लोगों के घायब हो गए थे, जिनके आईएस में शामिल होने की आशंका है। जानकारी के अनुसार इन 21 युवकों में से 17 कासरगोड और चार पलक्कड़ से हैं। कासरगोड से लापता लोगों में चार महिलाएं और तीन बच्चे हैं । पलक्कड़ से लापता लोगों में दो महिलाएं हैं।

TOPPOPULARRECENT