Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / आई एस सदन से धमाको अशीया ज़बत, दो गिरफ़्तार

आई एस सदन से धमाको अशीया ज़बत, दो गिरफ़्तार

हैदराबाद 27 फरवरी: दिलसुखनगर बम धमाकों के बाद शहर में जारी तलाशी मुहिम के दौरान पुलिस ने आज आई एस सदन इलाके से धमाको अशीया को ज़बत करलिया और दो अफ़राद को गिरफ़्तार करलिया। बताया जाता है कि टास्क फ़ोर्स साउथ ज़ोन की टीम ने तलाशी मुहिम

हैदराबाद 27 फरवरी: दिलसुखनगर बम धमाकों के बाद शहर में जारी तलाशी मुहिम के दौरान पुलिस ने आज आई एस सदन इलाके से धमाको अशीया को ज़बत करलिया और दो अफ़राद को गिरफ़्तार करलिया। बताया जाता है कि टास्क फ़ोर्स साउथ ज़ोन की टीम ने तलाशी मुहिम के दौरान आई एस दामोदरा संजीवा नगर में कार्रवाई अंजाम दी और 41 साला डी सरीनवास साकन वनसथली पुरम और 26 साला बी सुरेश साकन आई एस सदन को गिरफ़्तार करलिया।

पुलिस ने उन के क़बजे से 50 जिलेटिन स्टिक और दो सेलफोन ज़बत करलिए। पुलिस की इस कार्रवाई से अवाम में ख़ौफ़ पैदा होगया। ताहम दूसरी तरफ़ पुलिस ने इस बात की सफ़ाई पेश की है कि गिरफ़्तार सुरेश और सरीनवास इन धमाको अशीया को तामीराती कामों में पत्थर फोड़ने के लिए इस्तेमाल करने वाले कंट्टर एक्टर्स को फ़रोख़त करते थे।

पुलिस ने बताया कि बैयकवक़त कार्यवाहीयां आई एस सदन और हयातनगर दोनों मुक़ामात पर की गईं जहां ये लोग गै़रक़ानूनी तौर पर धमाको अशीया जमा कररहे थे। सरीनवास ने तफ़तीश के दौरान बताया कि वो पिछ्ले 6 साल से ये कारोबार कररहा है और इस ने ज़ाइद मुनाफे के लिए कारोबार शुरू किया था।

पुलिस ने ये भी बताया कि साल 2011 में इस तरह के धमाको अशीया की गै़रक़ानूनी ज़ख़ीराअंदोजी और फ़रोख़त के मुआमले में सरीनवास जेल की सज़ा भी काट चुका है और रिहाई के बाद इस ने दुबारा इस कारोबार को शुरू कर दिया। पुलिस के मुताबिक़ गिरफ़्तार सुरेश और सरीनवास के यहां किसी किस्म का कोई लाईसैंस नहीं था।

TOPPOPULARRECENT