Saturday , October 21 2017
Home / India / आई पी एल को बी सी सी आई से अलहदा करने की अर्ज़ी क़बूल

आई पी एल को बी सी सी आई से अलहदा करने की अर्ज़ी क़बूल

नई दिल्ली । 23 मई (पी टी आई) दिल्ली हाइकोर्ट ने एक अर्ज़ी की समाअत से इत्तेफ़ाक़ कर लिया, जिस में मर्कज़ को ये हिदायत देने इस्तिदा की गई है की इंडियन प्रीमीयर लीग को बी सी सी आई से अलहदा करते हुए इसका कंट्रोल हासिल कर लिया जाये क्योंकि नक़

नई दिल्ली । 23 मई (पी टी आई) दिल्ली हाइकोर्ट ने एक अर्ज़ी की समाअत से इत्तेफ़ाक़ कर लिया, जिस में मर्कज़ को ये हिदायत देने इस्तिदा की गई है की इंडियन प्रीमीयर लीग को बी सी सी आई से अलहदा करते हुए इसका कंट्रोल हासिल कर लिया जाये क्योंकि नक़दी से मालामाल इस क्रिकेट टूर्नामैंट में स्पॉट फिक्सिंग के बिशमोल बेज़ाप्तागियां उभर आरहे हैं।

चीफ़ जस्टिस डी मुरूगेसन और जस्टिस जयंत नाथ की बेंच ने फ़ाज़िल अदालत के मंगल वाले हुक्मनामे के तनाज़ुर में आई पी एल पर इमतिना आइद करने से इनकार कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने मंगल को इस तरह का हुक्मनामा जारी करने से इंकार किया था। हाइकोर्ट बेंच ने दरख़ास्त गुज़ार एन जी ओ एसोसीएशन‌ बराए समाजी और इंसानी उमूर से कहा कि अपनी अर्ज़ी में तरमीम करते हुए इमतिना के लिए इस्तिदा को हज़फ़ कर दिया जाये।

बेंच ने इस मामले को समाअत के लिए 23 अगस्त पर डाल दिया। जब आई पी एल पर हुकूमती कंट्रोल से मुताल्लिक़ एक और अर्ज़ी की समाअत मुक़र्रर है। बेंच ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट पहले ही आई पी एल पर पाबंदी के लिए अपीलों से निमट चुकी है और इस अदालत के ज़ेर-ए-निगरानी मुबय्यना स्पॉट फिक्सिंग की तहक़ीक़ात और दरख़ास्त गुज़ार के कौंसिल ने भी इमतिना पर ज़ोर नहीं दिया है।

इसलिए अर्ज़ी में ज़रूरी तरमीम दरकार है। फ़ाज़िल अदालत ने कल एक पी आई एल को ख़ारिज कर दिया था जिस ने आई पी एल पर इमतिना की इस्तिदा की थी। सुप्रीम कोर्ट ने इसके बजाय एक रुकनी कमेटी तशकील देने के लिए बोर्ड आफ़ कंट्रोल फ़ार क्रिकेट एंड इंडिया (बी सी सी आई) को हिदायत दी जो 15 यौम में अपनी इंकुआयरी मुकम्मल करते हुए रिपोर्ट पेश करेगी।

अदालत ने बी सी सी आई को इस कमेटी के नताइज पर अमल दरआमद करने की हिदायत भी दी थी। बी सी सी आई से आई पी एल को जुदा करने के लिए एक और इस्तिदा पर ज़ोर देते हुए दरख़ास्त गुज़ार के कौंसिल ने वज़ीर स्पोर्टस से एक बयान का तज़किरा किया और हाइकोर्ट को बताया कि हुकूमत को बी सी सी आई से आई पी एल का जायज़ा हासिल कर लेना चाहीए।

इस दौरान मदूराई की इत्तेला के बमूजब मद्रास हाइकोर्ट ने आज एक पी आई एल पर नोटिस जारी की जबकि मफ़ाद-ए-आम्मा की दरख़ास्त में हुकूमत को ये हिदायत देने की ख़ाहिश की गई है की वो बी सी सी आई से आई पी एल के इंतेज़ाम का जायज़ा हासिल करले क्योंकि वो इस खेल को फ़रोग़ देने में नाकाम हो गया है।

TOPPOPULARRECENT