Thursday , August 17 2017
Home / India / आखिरी बार लगवा रहा हूँ कतारों में- नरेंद्र मोदी।

आखिरी बार लगवा रहा हूँ कतारों में- नरेंद्र मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मुरादाबाद में परविर्तन यात्रा के तहत आयोजित जनसभा में भारत को बेईमानों से मुक्ति दिलाने का वादा दोहराते हुए कहा की मिटटी के तेल और चीनी के लिए देश की जनता पिछले 70 साल से कतारों में लगती आयी है, यह आखिरी बार वह कतारों में लगवा रहे हैं.

आगे प्रधानमंत्री ने देश को नकद लेनदेन से छुटकारा दिलाने का आह्वान करते हुए मोबाइल के जरिये खरीद करने का सुझाव दिया और युवाओं से अपील की कि वे देशवासियों को मोबाइल के जरिये लेनदेन करना सिखाएं। उन्होंने कहा, आपने वो सरकारें अब तक देखी हैं जो अपने लिए काम करती हैं, आपके लिए काम करने वाली सरकार भाजपा ही है.

मोदी ने कहा, इस देश को भ्रष्टाचार ने बर्बाद किया है। गरीब का अधिकार छीना है। हमारी सभी मुसीबतों की जड़ भ्रष्टाचार है। कानून का उपयोग करके बेईमान को ठीक करना होगा। भ्रष्टाचार को ठिकाने लगाना होगा। मोदी बोले, हिन्दुस्तान की पाई-पाई पर अगर किसी का अधिकार है तो सवा सौ करोड़ देशवासियों का है। हम तो फकीर आदमी हैं, झोला लेकर चल पड़ेंगे। नोटबंदी के फैसले को सही सिद्ध करते हुए मोदी ने कहा कि गरीबों के अधिकार छीनने वालों को अब हिसाब देना पड़ रहा है।

मोदी ने जनसभा में जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब जनधन खाता खोला गया था तब गरीबों को भी पता नहीं था कि ये कैसे काम आएगा। अब बताइये, काम आ रहा है कि नहीं। उन्होंने जनधन खाताधारकों से अपील की कि जितने पैसे उनके बैंक में आए हैं, कोई कितना भी दबाव डाले उसे नहीं निकालें। अगर रखे रहेंगे तो मैं कोई रास्ता खोजूंगा। मैं दिमाग लगा रहा हूं अभी।

गरीब के खाते में जिन्होंने गैर कानूनी ढंग पैसा से डाला है वो जाए जेल में और गरीब के घर में जाए रूपया। मोदी बोले, मैं हैरान हूं। आपने देखा होगा अच्छे-अच्छे लोगों के चेहरे से चमक चली गई है। पहले पूरा दिन मनी-मनी करते थे अब मोदी-मोदी बोल रहे हैं। मैं देशवासियों को फिर कहता हूं कि आपको कष्ट हो रहा है और देश के लिए आप कष्ट झेल भी रहे हैं। लोग आपको आकर भड़काने की कोशिश करते हैं।

कैशलेस अर्थव्यवस्था की तरफ़दारी करते हुए मोदी ने कहा कि अब मोबाइल फोन में ही बैंक आ गया है। एटीएम पर जाकर नोट निकालना अब जरूरी नहीं है। आप अपने मोबाइल से भी खर्च कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि बेईमानी का पैसा बाहर निकालना है और भ्रष्टाचार खत्म करना है। भविष्य में ये बीमारी खड़ी न हो, इसके लिए भी दरवाजे बंद करने हैं। उन्होंने कहा, बेईमानी के सारे दरवाजे बंद करने के लिए मुझे आपकी सहायता चाहिए।

नोट छाप-छाप कर हम बेईमान की मदद नहीं करना चाहते। मोदी ने नोटबंदी से किसानों को समस्या होने की विपक्ष नेताओं की दलील को खारिज करते हुए कहा, मैं किसानों का मुख्य रूप से आभार व्यक्त करना चाहता हूं कि तकलीफ के बावजूद बुआई में कमी नहीं आई। पिछले साल से बुआई बढ़ी है। विरोधी भ्रम फैला रहे हैं और निराशा का वातावरण पैदा कर रहे हैं।

अपनी बात को आगे बढ़ते हुए मोदी ने कहा की बेईमानों को संदेश दीजिए। तालियां बजाकर संदेश दीजिए कि देश बेईमानी को स्वीकार नहीं करेगा ईमानदारी की तरफ चलेगा।

TOPPOPULARRECENT