Friday , September 22 2017
Home / Kashmir / आजादी की लहर के बीच, 23000 कश्मीरी युवाओं ने पुलिस नौकरियों के लिए किए आवेदन

आजादी की लहर के बीच, 23000 कश्मीरी युवाओं ने पुलिस नौकरियों के लिए किए आवेदन

श्रीनगर: कश्मीर में जहां आजादी समर्थक विरोध प्रदर्शन 74 दिनों से चल रहा है, वहीं कम से कम 23,000 युवाओं ने विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) के पदों के लिए आवेदन किया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

23,000 में से लगभग 5,000 अनंतनाग, कुलगाम, पुलवामा और शोपियां के दक्षिणी जिलों के हैं जो गवाह हैं देश विरोधी नारों, धरना प्रदर्शन और उन मौतों के जो हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद हुआ है।
हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार उन्होंने विभिन्न जिलों के उपायुक्तों के कार्यालयों से यह आंकड़े एकत्र किये हैं, आवेदनों की संख्या सबसे ज्यादा, 8868, उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले से आया है। बारामूला जिले में 3,800, जबकि 2,266 बांदीपुरा में और 1600 गांदरबल में आवेदन हुआ है।
आवेदनों की संख्या कम से कम, 500, दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले से आया है। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, कुलगाम और पुलवामा जिलों में क्रमश: 2,400, 1,258 और 800 आवेदन प्राप्त हुए। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में आवेदकों की संख्या 1,363 है।
अधिकारियों ने बताया कि युवाओं ने जिला विकास कार्यालयों के लिए एक beeline बना दिया है जैसे ही SPO में पुलिस के विभिन्न क्षेत्रों में आवश्यकताओं को पूरा करने के आदेश मिला है.
घोषणा अगस्त की शुरुआत में किया गया था लेकिन घाटी में वानी की हत्या के बाद में विरोध प्रदर्शन, कर्फ्यू और शटडाउन की वजह से आवेदन नहीं हो सका था।
इसकी तत्काल घोषणा के बाद, हिजबुल मुजाहिदीन ने युवाओं को किसी भी भारतीय एजेंसी में शामिल होने के लिए नहीं कहा। जाकिर राशिद भट्ट, वानी के करीबी सहयोगी, ने एक विडियो पोस्ट कर युवाओं को कहा कि वे (एक आतंकवाद विरोधी बल इखवान मध्य नब्बे के दशक में गठित हुआ था) “एक और इखवान बनायेंगे”. बावजूद इसके 23000 कश्मीरियों ने पुलिस नौकरियों के लिए आवेदन किया है.

TOPPOPULARRECENT