Wednesday , October 18 2017
Home / Sports / आज नहीं तो कल सचिन अपनी सैंचरी बिना ही लेंगे : धोनी

आज नहीं तो कल सचिन अपनी सैंचरी बिना ही लेंगे : धोनी

मैलबोर्न, २५ दिसम्बर: (पी टी आई) हिंदूस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने आज कहा कि दो ज़ख़मी पेसर्स ज़हीर ख़ान और अशांत शर्मा आस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बॉक्सिंग डी(6 डसमबर) से मैलबोर्न से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच में बि

मैलबोर्न, २५ दिसम्बर: (पी टी आई) हिंदूस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने आज कहा कि दो ज़ख़मी पेसर्स ज़हीर ख़ान और अशांत शर्मा आस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बॉक्सिंग डी(6 डसमबर) से मैलबोर्न से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच में बिलकुल चुस्त और फुट रहेंगे और सीरीज़ के दरमयान उन्हें कोई मसला दरपेश ना होने के लिए तमाम एहतियाती तदाबीर को यक़ीनी बना लिया गया है।

धोनी ने आज यहां मैच से क़बल एक प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए कहा कि माज़ी में हम बाअज़ औक़ात ज़हीर ख़ां से महरूम रहेंगे और हम ने ज़हीर और अशांत को आराम केलिए कुछ वक़्त भी दिया और उन्हों ने प्रैक्टिस के दौरान अच्छी बौलिंग की है और प्रैक्टिस सैशन में हिस्सा ले चुके हैं। ये दोनों बोलर्स अब बिलकुल ठीक हैं और खेल शुरू होने केलिए मज़ीद दो दिन बाक़ी हैं और दिन के दौरान मज़ीद बेहतरी हो सकती है।

मुझे तवक़्क़ो है कि वो अपने इंतिख़ाब के लिए दस्तयाब रहेंगी। इन दोनों खिलाड़ियों के बारे में जिस हद तक एहतियात करना चाहीए था, हम करचुके हैं और उन्हों ने खेल की तैय्यारी केलिए काफ़ी प्रैक्टिस की ही। ना सिर्फ क्रिकेट मैदान पर बल्कि मैदान के बाहर जिम में भी उन्हों ने जिस्मानी वरज़िश की है और मुझे तवक़्क़ो है कि अब उन्हें ज़ख़मी नहीं है और वो बेहतर खेल का मुज़ाहरा करेंगी।

धोनी ने कहा अब हमारी टीम में तमाम खिलाड़ी बिलकुल ठीक हैं और हमें उन की फ़िटनैस के बारे में फ़िक्रमंद होने की कोई ज़रूरत नहीं है। उन्हों ने कहा कि इन की टीम हर किस्म के तनाज़ा से पाक सीरीज़ खेलना चाहती है। धोनी ने मज़ीद कहा कि खिलाड़ियों से इन्फ़िरादी तौर पर गलतीयां सरज़द होती हैं लेकिन पेशावर क्रिकेटर के तौर पर वो दानिस्ता ग़लती करना नहीं चाहती, क्योंकि ये वक़ार का मसला है और शायक़ीन की नज़रें उन पर मर्कूज़ रहती हैं।

चुनांचे तमाम खिलाड़ी तनाज़आत से पाक रहना चाहते हैं। इन के साथ साथ ये भी ज़रूरी होता है कि आप खेल को दिलचस्प बनाए रखें। धोनी दरअसल 2008-ए-की सीरीज़ के दौरान दोनों टीमों के दरमयान बदकलामी और तंज़िया फ़िक़्रों के तबादलों का हवाला दे रहे थी, इस तनाज़ा के सबब सीरीज़ दरमयान में ख़ातमा के दहाने पर पहुंच गई थी, बिलख़सूस 2008-ए-के दौरान सिडनी में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में ये सूरत-ए-हाल काफ़ी बिगड़ चुकी थी जबकि हिंदूस्तान को मुतनाज़ा फ़ैसला क़बूल करने पर मजबूर होना पड़ा था।

मानकी गेट स्कैंडल ने दोनों टीमों के चंद खिलाड़ियों को अदालत के कटहरे में ला खड़ा किया था। धोनी ने तवक़्क़ो ज़ाहिर की कि इस एतबार से उन की टीम का दौरा-ए-आस्ट्रेलिया जुदागाना होगा क्योंकि हिंदूस्तानी टीम ने इस मर्तबा जिस हद तक तैयारी की है , माज़ी में कभी भी ऐसा नहीं किया गया था। हम ने महिज़ 12, 14 दिन केलिए नहीं बल्कि एक महीना से ज़ाइद मुद्दत तक काफ़ी प्रैक्टिस की है और मुख़्तलिफ़ शोबों में प्रैक्टिस पर तवज्जा मबज़ूल की गई।

हमारी बैटस्मैन माज़ी में आस्ट्रेलिया का दौरा कर चुके हैं और वो हालात को बख़ूबी समझते हैं। कैनबरा में पहली प्रैक्टिस विकेट बहुत ज़्यादा जुदागाना थी और किसी हद तक सुस्त थी।

TOPPOPULARRECENT