Tuesday , October 24 2017
Home / World / आधार के ज़रीया 2030 तक ग़ुर्बत का ख़ातमा सदर आलमी बैंक

आधार के ज़रीया 2030 तक ग़ुर्बत का ख़ातमा सदर आलमी बैंक

नई दिल्ली, वाशिंगटन, 10 मई : ( पी टी आई) आलमी बैंक के सदर जिम योंग किम ने आज एक अहम बयान देते हुए हिंदुस्तान में आधार कार्ड स्कीम की ज़बरदस्त सताइश की और कहा कि समाजी बहबूद के लिए टेक्नोलाजी से मरबूत हो (जुड़‌ ) जाने की एक बेहतरीन मिसाल है ।

नई दिल्ली, वाशिंगटन, 10 मई : ( पी टी आई) आलमी बैंक के सदर जिम योंग किम ने आज एक अहम बयान देते हुए हिंदुस्तान में आधार कार्ड स्कीम की ज़बरदस्त सताइश की और कहा कि समाजी बहबूद के लिए टेक्नोलाजी से मरबूत हो (जुड़‌ ) जाने की एक बेहतरीन मिसाल है ।

हिंदुस्तान ने आधार कार्ड की तैयारीयों के लिए जो ज़बरदस्त मक़सद पेशे नज़र रखा है इस पस मंत्र में ये बात कही जाएगी कि 2030 तक हिंदूस्तान ग़ुर्बत से मुकम्मल तौर पर पाक मुल्क कहलाएगा । आलमी बैंक के हेडक्वार्टर पर हिंदूस्तान की जानिब से आधार कार्ड पर एक अहम प्रोग्राम में अपनी तक़रीर के दौरान उन्होंने कहा कि आला पैमाने पर हम ये सोचने पर मजबूर हो गए हैं कि किसी भी फ़लाही स्कीम के लिए टेक्नोलाजी का मुसबत और अटूट इस्तेमाल क्यों किया जा सकता है इसका नमूना हमें हिंदूस्तान में देखने को मिला ।

टेक्नोलाजी के ज़रीया मआशी ख़िदमात तक रसाई ( पहुँच) किस तरह हासिल की जा सकती है । ये इसकी बेहतरीन मिसाल है । इस तक़रीब में यूनीक आईडेंटीफिकेशन अथॉरीटी आफ़ इंडिया (UIAI) के सदर नशीन नंदन नीलकानी भी मौजूद थे ।

किम जो हिंदूस्तान में आधार कार्ड प्रोग्राम से बेहद मरऊब नज़र आ रहे थे ने कहा कि इसके ज़रीया हिंदूस्तान को 2030 तक ग़ुर्बत के ख़ातमा में भी मदद मिलेगी ।

TOPPOPULARRECENT