Thursday , October 19 2017
Home / Sports / आफ़रीदी 2011के सब से कामयाब बोलर

आफ़रीदी 2011के सब से कामयाब बोलर

ढाका। 3दिसमबर (पी टी आई /एजैंसीज़) बंगला देश के ख़िलाफ़ पहले वनडे में बेहतरीन खिलाड़ी क़रार पाने वाले ऑल राउंडर शाहिद आफ़रीदी ने कहा है कि क़िस्मत सिर्फ़ बहादुरों पर मेहरबान होती है। उन्हों ने फ़तह का सेहरा एक मर्तबा फिर कप्तान म

ढाका। 3दिसमबर (पी टी आई /एजैंसीज़) बंगला देश के ख़िलाफ़ पहले वनडे में बेहतरीन खिलाड़ी क़रार पाने वाले ऑल राउंडर शाहिद आफ़रीदी ने कहा है कि क़िस्मत सिर्फ़ बहादुरों पर मेहरबान होती है। उन्हों ने फ़तह का सेहरा एक मर्तबा फिर कप्तान मिसबाह-उल-हक़ को दिया। आफ़रीदी ने कहा कि मिसबाह जिस तरह टीम की क़ियादत कररहे हैं वो काबिल-ए-तारीफ़ है। याद रहे कि पाकिस्तान ने बंगला देश के ख़िलाफ़ मुसलसल 20 वीं फ़तह हासिल की है। दूसरी जानिब बंगलादेश क्रिकेट टीम के कप्तान मशफ़ीक़ अलरहीम का कहना है कि पाकिस्तानी बोलरज़ तारीफ़ के मुस्तहिक़ हैं। कामयाबी का मुकम्मल सहरा पाकिस्तानी बोलर्स को जाता है।

दरीं असना पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ऑल राओनडर शाहिद ख़ान आफ़रीदी ने रवां साल के दौरान चौथी मर्तबा पाँच विकटें लेने का कारनामा अंजाम दिया। बंगला देश के ख़िलाफ़ साबिक़ कप्तान ने सिर्फ 23रंज़ ददीकर पाँच खिलाड़ियों को पवेलीयन का रास्ता दिखाया वो अब तक वनडे क्रिकेट में 331 मुक़ाबलों में पाकिस्तान की नुमाइंदगीकरते हुई 33.04 की औसत से 333 विकटें हासिल करचुके हैं उन की बेहतरीन बौलिंग 38 रंज़ के इव्ज़ छः विकटें हैं और ये कारनामा उन्हों ने 22अप्रैल 2009-ए-में आस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ दुबई में खेलते हुए अंजाम दिया था। शाहिद आफ़रीदी मजमूई तौर पर पाँच या ज़्यादा विकटें लेने का कारनामा सात मर्तबा अंजाम दे चुके हैं।

शाहिद आफ़रीदी 2011में 25 मुक़ाबले खेल कर 861 रंज़ के इव्ज़ 45 खिलाड़ियों को अपना शिकार बना चुके हैं और सर-ए-फ़हरिस्त बोलर हैं। श्रीलंका के मलंगा दूसरे मुक़ाम पर मौजूद हैं। शाहिद आफ़रीदी ने इस साल पहली मर्तबा पाँच विकटें वर्ल्ड कप में कीनीया के ख़िलाफ़ लें थीं। दूसरी मर्तबा कैनेडा के ख़िलाफ़ कोलंबो में खेलते हुई3 रंज़ देकर 5 खिलाड़ियों को मैदान से बाहर किया। 20नवंबर को शारजा का मैदान स्टार क्रिकेटर के लिए तीसरी मर्तबा ख़ुशी की नवेद लाया जब वो सिरी लंकाई खिलाड़ियों के आसाब पर हावी होगए। उन्हों ने 35 रंज़ के इव्ज़ 5 खिलाड़ियों को आउट किया और गुज़श्ता रोज़ बंगला देश के ख़िलाफ़ ढाका में 23 रंज़ के इव्ज़ पाँच विकटें हासिल कीं।

TOPPOPULARRECENT