Saturday , October 21 2017
Home / Sports / आमिर सुहैल सलेक्शन कमेटी के नए चेयरमेन मुक़र्रर

आमिर सुहैल सलेक्शन कमेटी के नए चेयरमेन मुक़र्रर

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ टेस्ट खिलाड़ी मुहम्मद इल्यास को चीफ सलेक्टर के ओहदा से बर्तरफ़ करदिया गया है जबकि सलेक्शन कमेटी के दीगर अर्कान अज़हर ख़ान, सलीम जाफ़र और फ़र्ख़ ज़मान बदस्तूर अपने ओहदे पर काम करते रहेंगे और पाकिस्तान क

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साबिक़ टेस्ट खिलाड़ी मुहम्मद इल्यास को चीफ सलेक्टर के ओहदा से बर्तरफ़ करदिया गया है जबकि सलेक्शन कमेटी के दीगर अर्कान अज़हर ख़ान, सलीम जाफ़र और फ़र्ख़ ज़मान बदस्तूर अपने ओहदे पर काम करते रहेंगे और पाकिस्तान के साबिक़ टेस्ट क्रिकेटर आमिर सुहैल को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की सलेक्शन कमेटी का नया चेयरमेन मुक़र्रर कर दिया गया है उन्हें डायरेक्टर गेम डवल्पमेंट की ज़िम्मेदारी भी सौंप दी गई है।

वो इन दोनों ओहदों पर पहले भी ज़िम्मेदारी निभा चुके हैं। मुहम्मद इल्यास जूनियर सलेक्शन कमेटी के चेयरमेन मुक़र्रर किए गए हैं। ख्वातीन क्रिकेट टीम का इंतिख़ाब भी उन्ही की ज़िम्मेदारी होगी। बासित अली को कराची में इलाक़ाई क्रिकेट एकाडमी का कोच मुक़र्रर कर दिया गया है, जब कि इंतिख़ाब आलम डायरेक्टर डोमेस्टिक क्रिकेट बना दिए गए हैं।

सलेक्शन कमेटी के मौजूदा अरकान अज़हर ख़ान, सलीम जाफ़र और फ़र्ख़ ज़मान बदस्तूर अपने ओहदे पर काम करते रहेंगे। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने ये तमाम फ़ैसले शब गवर्निंग बोर्ड के इजलास में किए। वाज़िह रहे कि सलेक्शन कमेटी इक़बाल क़ासिम के इस्तीफ़ा के बाद से बगै़र चीफ़ सलेक्टर काम कर रही थी उसकी वजह ये थी कि जब साबिक़ उबूरी या निगरां चेयरमेन नजम सेठी ने मुईन ख़ान को सलेक्शन कमेटी का चेयरमेन मुक़र्रर किया था तो इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने उसे नाकाम‌ दे दिया जिसका ये कहना था कि नजम सेठी अहम नौईयत के बड़े फ़ैसले करने के मजाज़ नहीं हैं।

आमिर सुहैल इससे क़बल लेफ़्टीनेंट जनरल (रिटायर्ड) तौक़ीर ज़िया के दौर में सलेक्शन कमेटी के चेयरमेन रहे थे। इसके इलावा वो एजाज़ बट के दौर में डायरेक्टर नेशनल क्रिकेट एकाडमी ऐंड गेम डवल्पमेंट बनाए गए थे लेकिन सिर्फ़ आठ माह काम करने के बाद उन्हों ने इस ओहदे से इस्तीफ़ा दे दिया था।

47 साला आमिर सुहैल ने अपने हंगामाख़ेज़ कैरियर में 47 टेस्ट और 156 वन्डे मुक़ाबलों में पाकिस्तान की नुमाइंदगी की है। वो अपनी जारिहाना बैटिंग की तरह बेलाग तबसरों और खुल कर ख़्यालात का इज़हार करने की वजह से पहचाने जाते हैं।

TOPPOPULARRECENT