Friday , October 20 2017
Home / Delhi News / “आम आदमी” का अरविंद केजरीवाल के नाम खुला खत

“आम आदमी” का अरविंद केजरीवाल के नाम खुला खत

image

श्री अरविंद केजरीवाल
माननीय मुख्यमंत्री
दिल्ली सरकार

महोदय,

मैं आपका ध्यान दिल्ली में रहे बर्मा के शरणार्थियों की दयनीय हालत की तरफ आकर्षित करना चाहूँगा | दिल्ली में बर्मा से आए रोहिंगिया शरणार्थी पिछले कई वर्षों से ओखला के कंचन कुंज और श्रम विहार इलाक़े में बहुत ही बुरी हालत में रह रहे हैं | अन्य देशों से आए शरणार्थियों की तरह इन्हें UNHCR से कोई जीवन निर्वाह भत्ता भी नहीं मिलता है | इन्हें UNHCR ने सिर्फ़ कई वर्षों के बाद मात्र परिचय पत्र ही दिया है | विदेशी होने के कारण इन्हें रोज़गार मिलने में भी बहुत दिक्कत आ रही है | लोग डर के कारण इन्हें अपने यहाँ नौकरी देने से भी हिचकिचाते हैं | इनमें से बहुत सारे लोग शिक्षित होने के बावजूद मज़दूरी की तलाश में मारे मारे फिर रहे हैं |

image

पिछले दिनों एक प्राइवेट हॉस्पिटल द्वारा लगाए गये स्वास्थ्य कैंप में जाँच से पता चला की वहाँ की 95% महिलाएँ और बच्चे कुपोषण के शिकार हैं पीने के स्वच्छ पानी तथा शौचालय के अभाव में गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हैं | पिछले साल साँप काटने और सर्दी से तीन मासूम बच्चों की असामयिक मौत हो गयी थी |

विभिन्न सामाजिक संस्थाओं द्वारा इन्हें सिर छिपाने की जगह दी गयी थी परंतु अब ये संस्थाएँ भी इन लोगों पर रेफ्यूजी कैंप की जगह खाली करने का दबाव डाल रहीं हैं | 800 गज़ ज़मीन के टुकड़े पर 52 परिवारों के 235 सदस्य रहते हैं | इस छोटी सी जगह पर इनको दोमंज़िला झुग्गी बना कर रहना पड़ रहा है सर्दी से बचने के लिए पोलिथीन से ढकी हुई दो मंज़िला झुग्गियाँ इन्हें सर्दी से बचाने के लिए नाकाफ़ी है | जिसकी वजह से आए दिन दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है |

इस कैंप में तकरीबन 85 बच्चे हैं जिनका स्कूल में दाखिला नहीं हो पाया है |

मैने समाचार पत्रों में आप द्वारा पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों की मदद के लिए की गयी त्वरित कार्यवाही को देख कर मैं भी 29 अक्तूबर को मुख्यमंत्री आवास पर जनता संवाद में एक प्रार्थना पत्र (# 201570741) भी दिया था परंतु उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई | मैं आपसे ये निवेदन करता हूँ की बर्मा से जान बचा कर भागे इन शरणार्थियों की मदद तुरंत पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों की ही तरह की जाए |

आपसे अनुरोध है की अपने व्यस्त कार्यक्रम में से थोड़ा सा समय निकल कर इन बेसहारा शरणार्थियों की नरक से भी बदत्तर हालत का अवलोकन करने का कष्ट करें और इन्हें तत्काल पानी, बिजली, शौचालय, शिक्षा, स्वास्थ्य तथा रहने हेतु स्थान की सुविधा उपलब्ध करा कर इनके जीवन की रक्षा करने का कष्ट करें |

आपका आभारी

मोहम्मद परवेज़

TOPPOPULARRECENT