Saturday , June 24 2017
Home / Delhi News / ‘आम आदमी पार्टी’ में कुमार विश्वास अलग- थलग पड़े!

‘आम आदमी पार्टी’ में कुमार विश्वास अलग- थलग पड़े!

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने हाल ही में कुमार विश्वास को राजस्थान का प्रभारी नियुक्त किया है। प्रभारी बनने के बाद उन्होंने कहा था कि पार्टी इस बार राजस्थान में अलग तरीके से चुनाव लड़ेगी, परंतु सूत्राें की मानें ताे पार्टी के अंदर विश्वास को कोई गंभीरता से नहीं ले रहा है। वे पार्टी के अंदर ही अविश्वास के शिकार हैं।

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने निजी बातचीत में उन पर राष्ट्रीय संयोजक बनने के लिए राजनीति करने का आरोप लगाया है। इस खींचतान के बाद विश्वास और केजरीवाल ने सार्वजनिक तौर पर किसी भी विवाद से इंकार किया था। हालांकि, इसके बाद के घटनाक्रमों ने कुमार विश्वास को कुछ धक्का तो जरूर दिया।

निलंबन के ठीक बाद दिल्ली के मनीष सिसोदिया अमानतुल्लाह से मिलने उनके घर गए और 6 सदस्यों के हाउलस पैनल में उन्हें स्थान दिया। इससे स्पष्ट हाे गया कि निलंबन के बावजूद अमानतुल्लाह की भूमिका कम नहीं हुई है।

वहीं, विश्वास ने भी अाक्रामक रवैया अपनाते हुए कहा है कि दिल्ली के बड़े नेताओं की फोटो राजस्थान में नहीं लगेगी। जाहिर है उनका इशारा संजय सिंह और मनीष सिसोदिया की ओर है। ये दोनों नेता दिल्ली में उनको निपटाने में लगे बताए जा रहे हैं।

इसलिए विश्वास के साथ सिर्फ अरविंद केजरीवाल की फोटो लगेगी और बाकी प्रदेश के नेताओं के चेहरे आगे किए जाएंगे। दिल्ली के ज्यादा नेता प्रचार के लिए भी नहीं बुलाए जाएंगे।

विश्वास ने यह भी कह दिया है कि उन्हें खुला हाथ चाहिए और वे नतीजों की पूरी जिम्मेदारी लेंगे। रविवार को उन्हाेंने ऐलान किया था कि अगर कोई पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहता है तो उसे पार्टी का कम से कम एक साल से सदस्य होना होगा।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT