Friday , September 22 2017
Home / Bihar News / आयुर्वेद व होमियोपैथिक असातिजा की बहाली के लिए पी आइ एल

आयुर्वेद व होमियोपैथिक असातिजा की बहाली के लिए पी आइ एल

मुजफ्फरपुर : रियासत के तिब्बी, आयुर्वेदिक, यूनानी व होमियोपैथिक कॉलेजों में असातिजा की कमी को लेकर पटना हाइकोर्ट में एक पी आई एल दायर की गयी है। वकील शरीक लोक जनशक्ति पार्टी के रियासती जेनरल सेक्रेटरी सुधीर कुमार ओझा की तरफ से दर्ज करायी गयी इस दरख्वास्त में रियासत सरकार के चीफ सेक्रेटरी, सेहत महकमा के प्रिंसिपल सेक्रेटरी व मुश्तरका सेक्रेटरी, बीपीएससी के सदर व सेक्रेटरी को मुलजिम बनाया गया है।

मिस्टर ओझा के मुताबिक, सूबे के तिब्बी, आयुर्वेदिक, यूनानी व होमियोपैथिक कॉलेजों में काफी दिनों से असातिजा की कमी है। आयुर्वेदिक कॉलेज में 86 ओहदे , तिब्बी कॉलेज में छह, यूनानी में 94 व होमियोपैथिक कॉलेज में 100 लेक्चरर के ओहदे खाली हैं। यही नहीं, होमियोपैथिक कॉलेज के 34 डॉक्टरी ओहदेदार 2002 में रीटायर्ड हो चुके हैं। इसके वजह से इन कॉलेजों में पढ़ाई व इलाज का काम पूरी तरह ठप है।

TOPPOPULARRECENT