Monday , September 25 2017
Home / Khaas Khabar / आरएसएस के गढ़ में हनुमान चालीसा पढ़ाकर दूर की जाएगी एड्स की बीमारी

आरएसएस के गढ़ में हनुमान चालीसा पढ़ाकर दूर की जाएगी एड्स की बीमारी

Aids

महाराष्ट्र: देश में आरएसएस हेडक्वार्टर होने की वजह से पहचाने जाने वाले महाराष्ट्र के तीसरे सबसे बड़े शहर नागपुर में आने वाले दिनों में एक कार्यक्रम रख गया है। यह कार्यक्रम वर्ल्ड हेल्थ डे के दिन रखा गया है और इसे आयोजित किया है नागपुर म्युनिसिपल कारपोरेशन ने। कार्यक्रम के मुताबिक लोगों को एड्स से दूर रखने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करवाया जाएगा। इस प्रोग्राम में करीब 1.5 लाख लोगों के आने की उम्मीद जताई जा रही है।

हालाँकि इस प्रोग्राम का विरोध करते हुए पूर्व कॉर्पोरेटर जनार्धन मून ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा है कि इस तरह के प्रोग्राम नहीं होने चाहिए जो हिंदुत्व के अजेंडे को बढ़ावा दें। याचिकाकर्ता ने कोर्ट में कहा है कि एड्स एक बीमारी है जो समाज के किसी भी वर्ग और जाति या धर्म के इंसान को हो सकती है लेकिन म्युनिसिपल कारपोरेशन की तरफ से रखे इस प्रोग्राम में सिर्फ हिन्दुओं को हिस्सा लेने के लिए उत्साहित किया जा रहा है।

जनार्धन मून की इस याचिका का जवाब देने के लिए कटघरे में कड़ी म्युनिसिपल कारपोरेशन ने कहा है कि इलाके में राम जन्मोस्तव शोभा यात्रा हर साल बड़ी धूम धाम से निकाली जाती है और राम के मर्यादा पुरषोत्तम थे और एक जीवन साथी के साथ ही ज़िन्दगी बिताने वाले थे। हनुमान ब्रह्मचर्य के प्रतीक थे इसलिए इस प्रोग्राम को हनुमान चालीसा प्रोग्राम के साथ जोड़कर बनाया गया ताकि लोग धर्म के नाम पर इकठे हों और एड्स के बारे में उन्हें समझाया जा सके।

TOPPOPULARRECENT