Wednesday , September 20 2017
Home / Bihar/Jharkhand / आरएसएस को तिरंगा की जगह केसरिया नहीं फहराने देंगे: लालू

आरएसएस को तिरंगा की जगह केसरिया नहीं फहराने देंगे: लालू

पटना : लालू प्रसाद ने भाजपा और आरएसएस पर दलित और अक्लियत विरोधी होने का इलज़ाम लगाते हुए आज कहा कि उनकी पार्टी आरएसएस के कौमी झंडा को भगवा झंडा से ‘बदलने’ करने की साजिश को पूरा नहीं होने देगा. पटना के दस सर्कुलर रोड वाके अपने रिहाईशगाह पर आज मुनाक्किद राजद के रियासती ओहदेदारों की बैठक के बाद सहाफियों से बातचीत करते हुए लालू ने भाजपा और आरएसएस पर दलित और अक्लियत विरोधी होने का इलज़ाम लगाया और कहा कि उनकी पार्टी आरएसएस के कौमी झंडे का भगवा झंडा से ‘बदलने’ करने की मंशा को पूरा नहीं होने देगा.

उन्होंने कहा कि नस्लभेद और मज़हब की बुनियाद पर मुद्दे खोजे जा रहे हैं जिससे कौन किस चीज से चिढ़ेगा सभी भारतवासी एकजुट हो जायें और फांसीवादी ताकतों की चाल को समझें. ये कितना भी हथौडा मारें इनका मुकाबला करें. ये वोट के लिए हमलोगों को बांटकर मुल्क को तोड़ना चाहता है. मुल्क की समस्याओं को दरकिनार कर लोगों का ध्यान दूसरी तरफ ले जाना चाहते हैं. लालू ने इलज़ाम लगाया कि कौमी झंडे का भगवा झंडे से बदलने के लिए ज़मीन तैयार की जा रही है. राजद आरएसएस की साजिश को पूरा नहीं होने देगी. नरेंद्र मोदी के वज़ीरे आज़म मुद्दत और फांसीवादी ताकतों के हुकूमत के दौरान भारत के जम्मू कश्मीर में में पाकिस्तान के झंडे फहराये गये और उस मुल्क का नारा लगा. इन्होंने कार्रवाई क्यों नहीं की.

लालू ने कहा कि ये मुल्क को बांटना चाहते हैं और जिनके खिलाफ नफरत की बात करते हैं उन्हीं के साथ सरकार बना रहे हैं. लालू ने कहा कि कौमी झंडा हमारी मुल्क की आजादी के लिए दी गयी कुर्बानी की शान है और इन लोगों का आजादी की लडाई में कोई किरदार नहीं था और अब ये मुल्क के कुर्बानियों को भी अपमानित करने का काम कर रहे हैं और फसाद फैलाना चाहता है. उन्होंने इलज़ाम लगाया आरएसएस के कौमी झंडे की जगह अपना भगवा झंडा लहराने की साजिश है. इन्होंने कौमी झंडे से जरा भी छेड़छाड़ किया तो मुल्क का बच्चा-बच्चा कुर्बानी दे देगा और उनकी मंशा को पूरा नहीं होने देंगे.

TOPPOPULARRECENT