Friday , September 22 2017
Home / India / आरएसएस प्रचारक के आरक्षण वाले बयान से आहत हुए दालित पत्रकार लौटा सकते हैं अवार्ड

आरएसएस प्रचारक के आरक्षण वाले बयान से आहत हुए दालित पत्रकार लौटा सकते हैं अवार्ड

नई दिल्ली: आरएसएस प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य द्वारा बीते दिनों देश में आरक्षण के खिलाफ दिए गए बयान से दलित पत्रकार सुनील जाधव काफी नाराज हैं। इस से क्षुब्ध होकर सुनील जाधव ने अपना पुरस्कार लौटाने का की बात कही है। साल 2011 में ‘महात्मा फुले ऑउट स्टैंडिंग दलित एक्टविस्ट अवार्ड’ सुनील को राज्य सरकार की तरफ से उनकी बेहतर पत्रकारिता के लिए दिया गया था। इस पुरस्कार के साथ उन्हें उन्हें 25,000 रुपये नकद और एक शाल भी भेंट में मिली थी।

पीटीआई के मुताबिक, उनसे बातचीत में सुनील जाधव ने कहा कि मनमोहन वैद्य ने बाबा साहेब के बनाए संविधान की आलोचना की है और आरएसएस उनके बनाये गए संविधान को मूल रुप में बने रहने देना नहीं चाहते। उनके इस बयान ने मुझे बहुत आहत किया है।

जिसके चलते मैंने इस पुरस्कार को लौटाने का फैसला किया है। आरएसएस देश भर में दलित विरोधी माहौल बना रहा है। अपनी सोच और मानसिकता को बदलने के बजाय दलितों को ही नष्ट कर रहा है।

TOPPOPULARRECENT