Tuesday , September 26 2017
Home / Social Media / आरएसस के स्‍टूडेंट विंग एबीवीपी के ट्विटर एकाउंट सस्पेंड मामले में एबीवीपी ने की माफी की मांग

आरएसस के स्‍टूडेंट विंग एबीवीपी के ट्विटर एकाउंट सस्पेंड मामले में एबीवीपी ने की माफी की मांग

दिल्ली : एबीवीपी के ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड करने और बाद में बहाल करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अखिल भारतीय विद्याथी परिषद ने सोशल नेटवर्किंग साइट से इस मामले पर सफाई देने और माफी की मांग की है. बता दें कि गुरुवार शाम एबीवीपी के @ABVPVoice नाम के ट्विटर एकाउंट और विंग के दूसरे कई लोगों के एकाउंट्स को सस्पेंड कर दिया गया था, हालांकि बाद में ट्विटर ने शुक्रवार सुबह इन सस्पेंड किए गए अकाउंट को फिर से बहाल भी कर दिया.

आरएसस के स्‍टूडेंट विंग एबीवीपी के ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड करने और बाद में बहाल करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अखिल भारतीय विद्याथी परिषद ने सोशल नेटवर्किंग साइट से इस मामले पर सफाई देने और माफी की मांग की है. ट्विटर की ओर से केवल एबीवीपी के दिल्ली अकाउंट @ABVPDelhi नहीं, बल्‍कि दूसरे कई एबीवीपी पदाधिकारियों के ट्विटर अकाउंट सस्पेंड किए गए. इसमें नेशनल मीडिया कंवेनर साकेत बहुगुणा, नेशनल आफिस सेक्रेटरी राहुल शर्मा और जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के स्टुडेंट यूनियन के पूर्व ज्वाइंट सेक्रेटरी सौरभ शर्मा का ट्विटर अकाउंट गुरुवार शाम को सस्पेंड कर दिया गया.

एबीवीपी के नेशनल मीडिया कंवेनर साकेत बहुगुणा ने इस मामले में सख्त प्रतिक्रिया देते हुए ट्विटर से इस बारे में बिना शर्त माफी मांगने की मांग की है. एबीवीपी का आरोप है कि संगठन और उससे जुड़े लोगों को जानबूझकर निशाना बनाया गया है, जिससे एबीवीपी की छवि भी खराब हो सकती है. ऐसा करने से अपने फॉलोअर के साथ संगठन का कम्युनिकेशन भी खराब हो सकता है.

साकेत बहुगुणा ने हमारी सहयोगी वेबसाइट फ़र्स्टपोस्ट से बातचीत में आरोप लगाया कि अबतक ट्विटर ने एबीवीपी के संगठन के ट्विटर अकाउंट को वैरिफाइ तक नहीं किया है, जबकि इसके लिए प्रयास भी किए जा चुके हैं. जबकि दूसरी तरफ, कई राष्ट्र विरोधी संगठनों और दूसरे संगठनों के ट्विटर अकाउंट को तुरंत वेरिफाई कर दिया जाता है. संगठन और उससे जुड़े हुए पदाधिकारियों के ट्विटर अकाउंट के सस्पेंड करने के मामले को एबीवीपी ने बोलने की आजादी पर प्रहार बताया है हालांकि, ये मुद्दा केवल एबीवीपी से जुड़ा नहीं है. एबीवीपी के अलावा भी बीजेपी और उससे जुड़े दूसरे लोगों के साथ भी कुछ इसी तरह का वाकया देखने को मिला है.

बीजेपी के वोलंटियर नवनीत शर्मा समेत कई दूसरे नेता भी अपने ट्विटर अकाउंट के सस्पेंड किए जाने से परेशान हैं. नवनीत शर्मा ने फ़र्स्टपोस्ट से बातचीत में बताया कि बिना किसी नोटिस के अचानक उन लोगों का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है. बीजेपी के महाराष्ट्र के संगठन महामंत्री रवींद्र भुसारी का भी ट्विटर अकाउंट भी बिना किसी जानकारी के अचानक सस्पेंड हो गया.

अब इस मुद्दे को लेकर दक्षिण पंथी छात्र संगठन और उससे जुड़े लोगों की तरफ से ट्विटर पर दबाव बनाया जा रहा है लेकिन, अबतक इस मामले में ट्विटर की तरफ से कोई सफाई नहीं आई है. न ही किसी तरह की कोई माफी मांगी है. लेकिन, बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट कर जानकारी दी कि इस पूरे मामले में ट्विटर अधिकारियों से उन्होंने बात की. इसके बाद सबके सस्पेंड किए गए ट्विटर अकाउंट को फिर से बहाल कर दिया गया.

TOPPOPULARRECENT