Monday , June 26 2017
Home / Mumbai / आरबीआई कर्मचारियों का गवर्नर को खत- ‘नोटबंदी के बाद हम अपमानित हुए’

आरबीआई कर्मचारियों का गवर्नर को खत- ‘नोटबंदी के बाद हम अपमानित हुए’

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक के कर्मचारियों ने गवर्नर उर्जित पटेल को चिट्ठी लिखी है। पटेल को भेजी चिट्ठी में कर्मचारियों ने लिखा है कि नोटबंदी के बाद घटे घटनाक्रमों से वो खुदको अपमानित महसूस कर रहे हैं। पटेल को भेजी गई चिट्ठी में कर्मचारियों ने लिखा है नोटबंदी की प्रक्रिया के परिचालन में कुप्रबंधन और सरकार की ओर से करेंसी के संयोजन हेतु अलग से अफसर की नियुक्ति करना, केंद्रीय बैंक की स्वायत्ता को चोट पहुंचाई गई है। पत्र में लिखा है कि इस कुप्रबंधन के कारण आरबीआई की स्वायत्तता और छवि को इतना ज्यादा नुकसान पहुंचा है कि उसे ठीक कर पाना आसान नहीं है।

पटेल को लिखे गए पत्र में यूनाइटेड फोरम ऑफ रिजर्व बैंक ऑफिसर्स एंड इम्पलाइज ने कहा है कि रिजर्व बैंक की स्वतंत्रता और दक्षता वाली छवि, यहां के कर्मचारियों की ओर से की गई मेहनत के कारण बनी थी, लेकिन इस सब को एक झटके में खत्म कर दिया गया। यह बहुत ही दुखद विषय है।

पटेल को लिखे पत्र में रिजर्व बैंक इम्पलाइज एसोसिएशन के समीर घोष, ऑल इंडिया रिजर्व बैंक वर्कर्स फेडरेशन के सूर्यकांत महादिक, ऑल इंडिया रिजर्व बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के सीएम पॉलसिल और आरबीआई ऑफिसर्स एसोसिएशन के आरएन वत्स के दस्तखत हैं, जिसमें से महादिक और घोष ने पत्र लिखने की पुष्टि की है। बकौल घोष यह फोरम 18,000 केंद्रीय कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करता है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT