Friday , August 18 2017
Home / Education / आलिया यूनिवर्सिटी: प्रशासन के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए कमेटी का गठन

आलिया यूनिवर्सिटी: प्रशासन के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए कमेटी का गठन

कोलकाता। आलिया यूनिवर्सिटी के रोजर हॉट परिसर में पिछले दो सप्ताह से जारी छात्र हड़ताल के बाद विश्वविद्यालय परिषद ने कुलपति और विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ छात्रसंघ के आरोपों की सच्चाई जानने के लिए एक 6 सदस्यीय कमिटी का गठन कर दिया है जो 15 दिसंबर तक अपनी रिपोर्ट पेश करेगी. हालांकि अब तक छात्रसंघ ने हड़ताल खत्म करने का कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

गौरतलब है कि पिछले दो सप्ताह से आलिया विश्वविद्यालय के रोजर हॉट परिसर जहां इंजीनियरिंग, विज्ञान और एमबीए सहित अर्थशास्त्र की शिक्षा होती है छात्रों के हड़ताल की वजह से शिक्षा पूरी तरह से ठप होकर रह गई है। मुसलमानों की शैक्षिक पिछड़ेपन के उन्मूलन के लिए 2007 में स्थापित आलिया यूनिवर्सिटी (जो पहले आलिया मदरसा था) अपनी स्थापना की दस साल पूरे करने वाली है लेकिन बार बार विरोध, संकाय सदस्यों की एक महत्वपूर्ण कमी और विश्वविद्यालय में शैक्षिक वातावरण बनाने पर विशेष ध्यान नहीं दिए जाने के कारण यूनिवर्सिटी जहां लगभग पांच हजार छात्र पढाई कर रहे हैं उनका भविष्य अंधकारमय होने के डगर पर पहुंच गया है।
न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार छात्रों के हड़ताल के मद्देनजर दो सप्ताह के बाद शनिवार को परिषद की इमरजेंसी मीटिंग रोजर हॉट परिसर में दो बजे हुई जिसमें छात्र संघ के प्रतिनिधि और शिक्षक एसोसिएशन सहित परिषद के सदस्य ने भाग लिया. छात्र संघ के सूत्रों के अनुसार संघ प्रतिनिधियों ने परिषद के सामने कुलपति के खिलाफ कई सबूत पेश किए हैं जिस में विश्वविद्यालय में शैक्षिक वातावरण समाप्ति, विश्वविद्यालय के अधिकारियों की नियुक्ति में दिशानिर्देशों के उल्लंघन के अलावा भ्रष्टाचार का मुद्दा भी उठाया गया है.
टीचर एसोसिएशन के सदस्यों ने भी कई मुद्दों पर छात्रों का समर्थन किया है । इसके बाद ही परिषद ने सच्चाई जान्ने के लिए कमीटी बनाने का फैसला किया है जो 15 दिसंबर तक रिपोर्ट पेश करेगी और इसके बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT