Saturday , October 21 2017
Home / Crime / आसाराम ने रेप के इल्ज़ाम नकारे, बोले-सब ठीक हो जाएगा

आसाराम ने रेप के इल्ज़ाम नकारे, बोले-सब ठीक हो जाएगा

एक नाबालिग के रेप के मामले में जुमेरात के रोज़ जोधपुर जिला और सेशन अदालत की तरफ से पढे गए इल्ज़ामात पर आसाराम और दिगर चार लोगो ने खुद को बेगुनाह बताया। आसाराम और चार मुल्ज़िमो ने अपने खिलाफ लगाए गए इल्ज़ामात को खारिज कर दिया और मुकदमे

एक नाबालिग के रेप के मामले में जुमेरात के रोज़ जोधपुर जिला और सेशन अदालत की तरफ से पढे गए इल्ज़ामात पर आसाराम और दिगर चार लोगो ने खुद को बेगुनाह बताया। आसाराम और चार मुल्ज़िमो ने अपने खिलाफ लगाए गए इल्ज़ामात को खारिज कर दिया और मुकदमे का रास्ता चुना जिसके बाद जज मनोज कुमार व्यास ने सुनवाई 17 फरवरी तक मुल्तवी कर दी।

इल्ज़ामात को सुनने के बाद आसाराम अदालत में उदास हो गए लेकिन जेल लौटने के लिए बस में चढने के दौरान उन्होंने कहा कि सब ठीक हो जाएगा। शिवा और शिल्पी समेत चार दिगर मुल्ज़िम जुमेरात के रोज़ कोर्ट में पेश हुए जिन्हें जमानत मिल चुकी है। अदालत ने आसाराम के खिलाफ बलात्कार, मुजरिमाना साजिश और दिगर ज़राइम के मामले में गुजश्ता जुमे के दिन इल्ज़ाम तय किए थे। इस बीच आसाराम के वकील ने अदालत में दरखास्त देकर दिल्ली पुलिस की तरफ से दर्ज मुतास्सिरा के बयान दस्तयाब कराने के लिए कहा है।

कोर्ट ने आसाराम को आईपीसी की दफा 342,354 ए, 370-4, 376-2-ए, 376-डी, 506, 509, 120-बी के तहत इल्ज़ाम सुनाए। साथ ही पोस्को कानून की दफा 5-एफ-6, 5-जी, ख -6, 7 और 8 और जेजे कानून की दफा 23 के तहत इल्ज़ाम सुनाए है। इन सभी दफआत के इलावा आसाराम के इलावा मुल्ज़िमों पर आईपीसी की दफा 109 भी लगाई गई है।

जेजे कानून की दफा 23 आसाराम के साथ ही शरद एवं शिल्पी पर और पोस्को कानून की दफा 17 आसाराम को छोड कर दूसरे मुल्ज़िमो पर लागूकी है। जुमेरात के रोज़ शिवा और शिल्पी के वकीलों ने मुतास्सिरा के साथ फोन कॉल की कॉपी देने की अर्जी पेश की।

TOPPOPULARRECENT