Saturday , September 23 2017
Home / Uttar Pradesh / आेवैसी का पोस्टर देखकर बौखलाए आजम

आेवैसी का पोस्टर देखकर बौखलाए आजम

बुलंदशहर : आजम खां यूपी की अखिलेश सरकार में भले ही ताकतवर मंत्री हों, लेकिन आईएमआईएम के नेता असदउद्दीन ओवैसी से इतने डरते हैं कि उनका एक होर्डिंग तक उनकी बर्दाश्त के बाहर है। बुलंदशहर के स्याना में शनिवार रात एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे आजम खां ओवैसी का पोस्टर देख बोखला गए।

इसके बाद आजम खां कार्यक्रम स्थल पर मंच पर नहीं बैठे। सीधे डायस पर माइक पकड़ा और भीड़ को चेताते हुए संभल जाने को कहा। इतना ही नहीं उन्होंने मीडिया की भी क्लास लगा दी और फिर अपनी कौम के लोगों को भी नहीं बख्शा। उन्होंने कहा कि इस साल अस्सी फीसदी मुस्लिमों ने रोजे नहीं रखे। जो खुद को रोजेदार बताते हैं वो झूठ बोलते हैं। मुस्लिमों को निशाना बनाते हुए उन्होंने कहा कि जो अपने मालिक (अल्लाह) का नहीं, वह ….से भी बदतर है।

ओवैसी का पोस्टर देखकर आजम ऐसे भड़के कि सबसे पहले अपने पुराने दोस्त और कार्यक्रम आयोजक सपा नेता बदरूल इस्लाम से इसकी शिकायत की। उन्होंने कहा कि अपने घर पर ऐसे पोस्टर लगाकर लोग क्या दिखाना चाहते हैं। जिस ओवैसी का पोस्टर लगाया गया है वह बीजेपी और आरएसएस का एजेंट है। उन्होंने औवेसी पर रूपये लेकर मुसलमानों को तोड़ने का आरोप भी लगाया है। आजम ने कहा कि मुसलमानों में दरार डलवाकर औवेसी हमारी बंद मुठ्ठी खोलना चाहता है।

ओवैसी का पोस्टर आजम के कार्यक्रम स्थल पर लगाये जाने की खबर टीवी पर देखकर आजम मीडिया पर भी बरस पड़े। आजम ने मीडिया को देश के हालातों का जिम्मेवार बता दिया। आजम ने कहा कि मुजफ्फरनगर में दंगे कराने वाला मीडिया है… ये पर्देवाला मीडिया। उन्होंने कहा कि मीडिया के कैमरों में सारा दंगा कैद था, लेकिन मीडिया ने जलते हुए घर दिखाये, घर जलाने वाले नहीं। बलात्कार दिखाये..बलात्कारी नहीं.. , दंगा तो दिखाया, लेकिन दंगाई नहीं। आजम ने बोलना जारी रखा और यहां तक कह दिया कि मुजफ्फरनगर में दंगा फैलाने वाले लोग मीडिया के अपने लोग हैं। इसलिए उनकी तरफदारी की गई।

TOPPOPULARRECENT