Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / आज़मीने हज के कोटा में कमी का अंदेशा

आज़मीने हज के कोटा में कमी का अंदेशा

हज 2014 के लिए आंध्र प्रदेश के आज़मीने हज्ज के कोटा में कमी का अंदेशा है। बताया जाता हैके हुकूमत सऊदी अरब ने हिंदुस्तान के लिए हज कमेटी के कोटा में कमी करदी है।

हज 2014 के लिए आंध्र प्रदेश के आज़मीने हज्ज के कोटा में कमी का अंदेशा है। बताया जाता हैके हुकूमत सऊदी अरब ने हिंदुस्तान के लिए हज कमेटी के कोटा में कमी करदी है।

पिछ्ले साल हिंदुस्तान के लिए हज कोटा एक लाख 20 हज़ार था जिसे हज 2014 के लिए सिर्फ़ 95 हज़ार कर दिया गया है। बताया जाता हैके इस सिलसिले में सेंट्रल हज कमेटी को तहरीरी तौर पर इत्तेला दे दी गई।

हज कोटा में कमी के सबब आंध्र प्रदेश का कोटा भी कम होजाएगा। पिछ्ले साल तक़रीबन 7400 अफ़राद ने हज की सआदत हासिल की थी ताहम इस मर्तबा उस तादाद में काबुल लिहाज़ कमी का अंदेशा है।

इसी दौरान हज 2014 के इंतेज़ामात को क़तईयत देने के लिए सेंट्रल हज कमेटी की मीटिंग 23 मार्च को मुंबई में मुनाक़िद होगा। इस मीटिंग में तमाम रियासतों के सदर हज कमेटी या फिर स्पेशल ऑफीसरस को मदऊ किया गया है।

आंध्र प्रदेश से स्पेशल ऑफीसर हज कमेटी प्रोफेसर एस ए शकूर मीटिंग में शिरकत करेंगे। इस मीटिंग में हज कोटा में कमी और आज़मीने हज्ज की क़ुरआ अंदाज़ी जेसे उमोर पर जायज़ा लिया जाएगा।

मक्का मुकर्रमा और मदीना मुनव्वरा में आज़मीने हज्ज के क़ियाम के इंतेज़ामात और दुसरे उमोर पर भी ग़ौर किए जाने का इमकान है। मीटिंग में सेंट्रल हज कमेटी के सदर नशीन के अलावा मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़लीयती उमोर रहमान ख़ां की शिरकत मुतवक़्क़े है। हज 2014 के इंतेज़ामात के सिलसिले में प्रोफेसर एस ए शकूर मीटिंग में मुख़्तलिफ़ तजावीज़ पेश करेंगे।

TOPPOPULARRECENT