Tuesday , October 24 2017
Home / India / आज़म ख़ान के ख़िलाफ़ कोई मुक़द्दमा दर्ज नहीं किया गया

आज़म ख़ान के ख़िलाफ़ कोई मुक़द्दमा दर्ज नहीं किया गया

मुज़फ़्फ़रनगर फ़सादाद के ज़िमन में काबीनी वज़ीर मुहम्मद आज़म ख़ान की गिरफ़्तारी के मुतालिबात के पस-ए-मंज़र में हुक्मराँ एस पी के एक सीनीयर लीडर ने कहा कि उन के ख़िलाफ़ कोई एफ आई आर दर्ज नहीं किया गया है और ना ही कोई मुक़द्दमा दायर किया गया है

मुज़फ़्फ़रनगर फ़सादाद के ज़िमन में काबीनी वज़ीर मुहम्मद आज़म ख़ान की गिरफ़्तारी के मुतालिबात के पस-ए-मंज़र में हुक्मराँ एस पी के एक सीनीयर लीडर ने कहा कि उन के ख़िलाफ़ कोई एफ आई आर दर्ज नहीं किया गया है और ना ही कोई मुक़द्दमा दायर किया गया है चुनांचे मुहम्मद आज़म ख़ान की गिरफ़्तारी की कोई जायज़ बुनियाद नहीं है ।

एस पी के क़ौमी जनरल सेक्रेटरी कुशवाहा ने अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए कहा कि मुज़फ़्फ़रनगर तशद्दुद के ज़िमन में आज़म ख़ान के ख़िलाफ़ कोई केस दर्ज नहीं किया गया है और ना ही किसी एफ आई आर में इनका नाम है , चुनांचे किस बुनियाद पर उन्हें गिरफ़्तार किया जा सकता है ? ।

कुशवाहा से आज़म ख़ान की गिरफ़्तारी के लिए बी जे पी क़ाइदीन की जानिब से किए जाने वाले मुतालिबात पर सवाल किया गया था । बी जे पी क़ाइदीन ने आज़म ख़ान पर फ़िर्कावाराना फ़सादाद में मुलव्वस होने का इल्ज़ाम आइद करते हुए उन की बरतरफ़ी और गिरफ़्तारी का मुतालिबा किया था ।

इलावा अज़ीं एक टेलीवीज़न चैनल ने स्टिंग ऑपरेशन पर मबनी फूटेज दिखाया जिसमें मुज़फ़्फ़रनगर फ़सादाद के दौरान पुलिस की कारकर्दगी में मुबय्यना सियासी मुदाख़िलत की झलक दिखाई गई थी । तशद्दुद के ज़िमन में गिरफ़्तार शूदा बी जे पी के गिरफ़्तार शूदा अरकान असेम्बली को ओराई जेल के जेलर की जानिब से सलामी दीए जाने के बारे में एक सवाल पर कुशवाहा ने कहा कि इन शिकायात की तहकीकात की जा रही हैं।

कुशवाहा ने कहा कि सिर्फ़ उन्ही अफ़राद के ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज किए गए हैं जो फ़िर्कावाराना तशद्दुद में मुलव्वस पाए गए और तमाम अफ़राद को उनकी सियासी वाबस्तगियों का लिहाज़ किए बगैर गिरफ़्तार किया गया है । एस पी लीडर ने कहा कि क़ानून सब के लिए एक सा है अगर आज़म ख़ान तशद्दुद में मुलव्वस पाए जाते हैं तो उनके ख़िलाफ़ भी मुक़द्दमा दर्ज किया जाता और वो भी गिरफ़्तार किए जा सकते थे लेकिन उन के ख़िलाफ़ कोई मुक़द्दमा ही नहीं है चुनांचे उनकी गिरफ़्तारी की कोई बुनियाद भी नहीं हो सकती थी ।

कुशवाहा ने कहा कि 18 अफ़राद के ख़िलाफ़ मुक़द्दमात दर्ज किए गए हैं इन में समाजवादी पार्टी का ख़ुद एक कौंसिलर भी शामिल है और उसको भी गिरफ़्तार किया जा चुका है। एस पी के लिए तमाम ख़ाती एक हैं चाहे उनका ताल्लुक़ किसी भी जमाअत से रहे बख्शा नहीं जाएगा ।

TOPPOPULARRECENT