Saturday , October 21 2017
Home / India / आफ़रीदी , अख़तर , रज़्ज़ाक़-ओ-कामरान , पाकिस्तानी टीम के सैंटर्ल कंट्टर एक्ट से महरूम

आफ़रीदी , अख़तर , रज़्ज़ाक़-ओ-कामरान , पाकिस्तानी टीम के सैंटर्ल कंट्टर एक्ट से महरूम

पी सी बी ज़राए का इन्किशाफ़ । शुऐब मलिक के ताल्लुक़ से 15 अगसट के बाद फ़ैसला । नए खिलाड़ियों को मौक़ा

पी सी बी ज़राए का इन्किशाफ़ । शुऐब मलिक के ताल्लुक़ से 15 अगसट के बाद फ़ैसला । नए खिलाड़ियों को मौक़ा
कराची 31 जुलाई ( पी टी आई ) पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने बड़ी तबदीलीयां करते हुए पाँच अहम क्रिकेटरस बिशमोल साबिक़ कप्तान शाहिद आफ़रीदी को नए मालना सैंटर्ल कंट्टर एक्ट सीमहरोम करदिया है । ये कंट्टर एक्ट आइन्दा छः माह केलिए किया गया है जिस में पाँच अहम खिलाड़ी शामिल नहीं हैं। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मोतबर ज़रा ए-ए-के बमूजब बोर्ड ने माह जुलाई से डसमबर तक केलिए सैंटर्ल कंट्टर एक्ट दिए जानेवाले क्रिकेटरस की फ़हरिस्त तैय्यार करली है और इस में कम अज़ कम छः ऐसे खिलाड़ी शामिल नहीं हैं जिन्हें साल हाल इबतिदाई छः माह के कंट्टर एक्ट में शामिल रखा गया था । ज़राए ने इन्किशाफ़ किया कि चूँकि शाहिद आफ़रीदी और शुऐब अख़तर ने अपने अपने रिटायरमैंट का ऐलान करदिया है इस लिए उन्हें शामिल नहीं किया गया है जबकि कामरान अकमल अबदूर्रज़्ज़ाक़ और अहमद शहज़ाद को दीगर मसाइल की वजह से सैंटर्ल कंट्टर एक्ट ना देने का फ़ैसला किया गया है । ज़राए ने मज़ीद कहा कि साबिक़ कप्तान शुऐब मलिक को सैंटर्ल कंट्टर एक्ट दिया जा सकता है बशर्तिके उन्हें क़ौमी स्लैक्शन कमेटी की अनटीगरीटी कमेटी की जानिब से कलईर नस मिल जाय जिस का 15 अगसट को इजलास होने वाला है । ज़राए ने कहा कि सैंटर्ल कंट्टर एक्ट दिए जाने वाले खिलाड़ियों की फ़हरिस्त तैय्यार करली गई है और इस में कुछ नए नाम शामिल हैं लेकिन अबदूर्रज़्ज़ाक़ और कामरान अकमल को उन की कारकर्दगी की बुनियाद पर सैंटर्ल कंट्टर एक्ट नहीं दिया गया है । उन्हों ने तौसीक़ की कि बोर्ड ने सैंटर्ल कनटराकटस को क़तईयत देते हुए पाकिस्तान क्रिकेट से मुताल्लिक़ आई सी सी टी टास्क फ़ोर्स के मश्वरा को क़बूल नहीं किया है । आई सी सी टास्क फ़ोर्स ने तजवीज़ किया था कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड सिर्फ़ 20 खिलाड़ियों को सैंटर्ल कंट्टर एक्ट दे ताहम बोर्ड ने इस तजवीज़ को नजरअंदाज़ करदेने का फ़ैसला किया है और अपनी पालिसी इख़तियार की है । दिलचस्प बात ये है कि जारीया साल के पहले निस्फ़ साल केलिए शाहिद आफ़रीदी अबदूर्रज़्ज़ाक़ शुऐब अख़तर और कामरान अकमल को ए ज़मुरा का कंट्टर एक्ट दिया गया था जिस से उन खिलाड़ियों को माहाना कम अज़ कम 250,000 रुपय मिलते थे । यूनुस ख़ान मिसबाह-उल-हक़ उमर गुल मुहम्मद हफ़ीज़ सईद अजमल और शायद शुऐब मलिक को भी जारीया साल के दूसरे शुशमाही केलिए ए ज़मुरा का कंट्टर एक्ट दिया जाय जबकि माबक़ी दीगर खिलाड़ियों को बी और सी ज़मुरा का कंट्टर एक्ट दिया जा सकता है । तौफ़ीक़ उम्र इमरान फ़र्हत उम्र अकमल अदनान अकमल सरफ़राज़ अहमद असद शफ़ीक़ अज़हर अली सुहेल तनवीर जुनैद ख़ान सुहेल ख़ान अबदुर्रहमान तनवीर अहमद वहाब रियाज़ और जुनैद ख़ान इन खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्हें सैंटर्ल कंट्टर एक्ट दिया जा सकता है । ख़ुर्रम मंज़ूर एज़ाज़ चीमा फ़वाद आलम जैसे खिलाड़ियों को कंट्टर एक्ट नहीं दिया जाएगा ताहम उन्हें इमकानी खिलाड़ियों में शामिल रखा जा सकता है । इस दौरान यू एन आई के बमूजब शुऐब मलिक को अनटीगरीटी कमेटी का कलईर नस मिल जाने के बाद 26 अगसट से ज़िमबावे का दौरा करनेवाली पाकिस्तानी टीम में भी शामिल किया जा सकता है क्योंकि बाअज़ हलक़ों की जानिब से ज़ोर दिया जा रहा है कि टीम में तजरबाकार खिलाड़ियों की भी ज़रूरत है । कहा गया है कि शुऐब मलिक का नाम इमकानी खिलाड़ियों की फ़हरिस्त में शामिल करलिया गया है और अनटीगरीटी कमेटी के इजलास के बाद उन की शमूलीयत के ताल्लुक़ से कोई क़तई फ़ैसला किया जा सकता है । इस कमेटी ने अपने इजलास में लीग स्पिन्नर दानिश कनेरिया को भी तलब किया है । दानिश कनेरिया को कमेटी में अपने बर्तानवी वकील की राय पेश करनी होगी । कहा गया है कि शुऐब मलिक को उन के एक बैरूनी बैंक एकाऊंट में पाई गई भारी रक़म के ताल्लुक़ से इस कमेटी को वाज़िह जवाब देना होगा । समझा जा रहा है कि शुऐब मुल़्क की पाकिस्तानी टीम में वापसी की राह हमवार होचुकी है ताहम पी सी बी के चीफ़ ऑप्रेटिंग ऑफीसर सुभान अहमद ने वाज़िह किया कि हालाँकि सिलेक्टर्स ने इन का नाम इमकानी फ़हरिस्त में शामिल किया है लेकिन अभी तक वो टीम में इंतिख़ाब के अहल नहीं हैं । इस ताल्लुक़ से कोई भी राय 15 अगसट के बाद ही क़ायम की जा सकती है।
सीनीयर खिलाड़ियों के ख़िलाफ़ साज़िश रज़्ज़ाक़
इस दौरान पी टी आई के बमूजब ऑल राउंडर अब्दुर अलरज़्ज़ाक़ ने इल्ज़ाम आइद किया है कि पाकिस्तान बोर्ड की जानिब से सीनीयर खिलाड़ियों के ख़िलाफ़ साज़िश की जा रही है ताकि उन्हें टीम से दूर रखा जा सके । अबदूर्रज़्ज़ाक़ ने कहा कि इस तरह की साज़िश ख़ुद पाकिस्तानी क्रिकेट केलिए ठीक नहीं है । बोर्ड ने अगसट में होने वाले दौरा ज़िमबावे केलिए कई सीनीयर खिलाड़ियों को नज़र अंदाज़ कर दिया है जिन में रज़्ज़ाक़ भी शामिल हैं। अब कहा जा रहा है कि रज़्ज़ाक़ को सैंटर्ल कंट्टर एक्ट से भी महरूम किया जा सकता है । रज़्ज़ाक़ ने कहा कि बोर्ड सीनीयर खिलाड़ियों के ख़िलाफ़ साज़िशें करते हुए उन्हें टीम से दूर कर रहा है

TOPPOPULARRECENT