Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / ‘इंटरनेट से आतंकियों की भर्ती न हो’मोदी

‘इंटरनेट से आतंकियों की भर्ती न हो’मोदी

क्वालालंपुर,
आतंकवाद पर पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद दुनिया के लिए एक बड़ा खतरा है और हमें आतंक से मिलकर लड़ना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने कहा कि इंटरनेट से आतंकियों की भर्ती न हो।

प्रधानमंत्री ने यहां मलेशिया अंतरराष्ट्रीय सांस्कृतिक केंद्र में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आतंकवाद की कोई सीमा नहीं होती है और न ही इसे किसी धर्म से जोड़कर देखा जाना चाहिए। आतंकवाद किसी मजहब का मुद्दा नहीं है और न ही यह किसी एक देश तक ही सीमित है।

मलेशिया में लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत और मलेशिया के बीच गहरे ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रिश्ते रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि भारत और मलेशिया के रिश्ते अच्छे हैं और इनमें और सुधार होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद को धर्म से अलग रखने की पुरजोर वकालत करते हुए कहा कि आतंक दुनिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन गया है और परस्पर सहयोग से इसे मिटाने के लिए सख्ती से काम करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया आज आतंकवाद को महसूस कर रही है और हमें तय करना है कि किसी भी तरह आतंक को बढ़ावा नहीं मिल सके।

उन्होंने मलेशिया में सांस्कृतिक केंद्र का नाम सुभाष चंद्र बोस के नाम पर करने की भी घोषणा की। मलेशिया की राजाधानी क्वालालंपुर में पीएम नरेंद्र मोदी ने भारतीय समुदाय का ‘वड़क्कम’ कहकर किया संबोधित किया। आपको बता दें कि अगले साल जिन राज्यों में चुनाव होने वाले हैं उसमें तमिलनाडु भी शामिल है और मलेशिया में भी तमिल लोग रहते हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि भारत से बाहर रहने वाले भारतीयों में भी एक भारत बसता है।

TOPPOPULARRECENT